बिहार चाय विकास योजना | चाय की खेती करने वाले किसानों को मिलेगी 50% से 90% की सब्सिडी

Bihar Chay Vikas Yojana:- केंद्र सरकार की तरह बिहार राज्य सरकार भी किसानों की आय को दोगुना करने के लिए निरंतर प्रयास कर रही है। किसान की आय में वृद्धि की जा सके। इसके लिए बिहार राज्य सरकार राज्य के किसानों के हित मे अनेक योजनाओं का संचालन कर रही है।

इस प्रक्रिया को आगे बढ़ाते हुए किसानों के लिए बिहार सरकार ने किसानों के लिए बिहार चाय विकास योजना को शुरू किया है। जो कि किसानों के लिए काफी महत्वाकांक्षी योजनाओं में से एक है। इस योजना के अंतर्गत चाय की खेती करने वाले किसानों के लिए राज्य सरकार सब्सिडी प्रदान करेंगी।

तो अगर आप बिहार राज्य में निवास करते हैं और चाय की खेती से जुड़े हुए हैं तो आपके लिए Bihar Chay Vikas Yojana काफी महत्वपूर्ण साबित होने वाली है। बाकी इस योजना का लाभ किसानों को कैसे मिलेगा और इस योजना के लिए जरूरी पात्रता दस्तावेज किया है उसकी सभी जानकारी नीचे दी गई है।

Contents show

बिहार चाय विकास योजना: Bihar Chay Vikas Yojana

दोस्तो बिहार राज्य में बड़े स्तर पर किसानों के द्वारा चाय की खेती की जाती है। मुख्य रूप से बिहार के किशनगंज जिले में किसानों के द्वारा बड़े पैमाने पर चाय की खेती होती है। रिपोर्ट के अनुसार किशनगंज में लगभग 50 एकड़ जमीन पर चाय की खेती होती है। जहां से पूरे देश मे चाय की सप्लाई की जाती है।

बिहार चाय विकास योजना चाय की खेती करने वाले किसानों को मिलेगी 50% से 90% की सब्सिडी

किशनगंज के साथ अन्य जिले में भी चाय की खेती को बढ़ाना देने और चाय की खेती करने वाले किसानो की आय में वृद्वि करने के लिए बिहार चाय विकास योजना (Bihar Chay Vikas Yojana) को शुरु किया गया है।

इस योजना के अंतर्गत चाय की खेती करने वाले किसानों को 50% से 90% की सब्सिडी सरकार की तरफ से दी जाएगी। यह सब्सिडी राशि किसानो को दो किश्तों में दी जाएगी। पहली सब्सिडी किश्त पहले बर्ष पौधा 90% जीवित रहने तक और दूसरी सब्सिडी किश्त वित्तीय वर्ष 2024-25 में प्रति हेक्टेयर शेष देय  25% राशि का भुगतान किया जाएगा।

जानकारी दे दे कि बिहार चाय विकास योजना के अंतर्गत चाय की खेती के विस्तार के लिए 4.94 लाख रुपए प्रति हेक्टेयर प्रति यूनिट राशि निर्धारित की गई है। इसके अनुसार किसानों को 50% मतलब लगभग 2.47 लाख रूपये की सब्सिडी मिलेगी।

बिहार चाय विकास योजना के अंतर्गत कौन-कौन से उपकरणों पर मिलेंगी सब्सिडी

बिहार चाय विकास योजना के अंतर्गत चाय की खेती करने वाले किसानों को चाय की खेती से जुड़े उपकरण खरीदने पर राज्य सरकार की तरफ से सब्सिडी राशि दी जाएगी। अब किस उपकरण पर कितनी सब्सिडी राशि किसानों को मिलेगी उसकी जानकारी नीचे जान सकते हैं-

प्र्यूनिंग मशीन

प्र्यूनिंग मशीन चाय की खेती करने के लिए काफी उपयोगी उपकरण है। यह उपकरण खरीदने के लिए राज्य सरकार किसानों को 50% या अधिकतम ₹60000 की सब्सिडी राशि प्रदान करेगी। आपको बता दें कि यह उपकरण खरीदने पर उन्हें किसानों को सब्सिडी राशि दी जाएगी जो 5 एकड़ यानी कि दो हेक्टेयर जमीन पर चाय की खेती करते हैं।

मैकेनिकल हार्वेस्टर

चाय की खेती करने के लिए मैकेनिकल हार्वेस्टर भी काफी उपयोगी उपकरण है। इस उपकरण पर सरकार 50% की सब्सिडी राशि किसानों को देगी। इस उपकरण पर सब्सिडी राशि वही किस प्राप्त कर सकते हैं जो 5 एकड़ जमीन पर चाय की खेती कर रहे हैं।

प्लकिंग शीयर

5 एकड़ जमीन पर चाय की खेती करने वाले किसान इस उपकरण को राज्य सरकार की 50% की सब्सिडी राशि पर खरीद सकते हैं

लीफ कैरिज व्हीकल

चाय की खेती करने वाले किसानो को लीफ कैरिज व्हीकल चाय विकास योजना के अंतर्गत सरकार की तरफ से 50% की सब्सिडी प्रदान करके बेहद कम मूल्य पर उपलब्ध कराया जाएगा। लेकिन बता दें कि इस उपकरण को सब्सिडी राशि प्राप्त करके वही किसान खरीद सकते हैं जो 10 एकड़ मतलब 4 हेक्टेयर जमीन पर चाय की खेती कर रहे हैं।

लीफ कलेक्शन शेड

लीफ कलेक्शन शेड को भी किसान बिहार चाय विकास योजना के अंतर्गत 50% की सब्सिडी राशि प्राप्त करके का मूल्य पर खरीद सकते हैं। 5 एकड़ या 2 एकड़ जमीन पर चाय की खेती करने वाले किसान सब्सिडी राशि प्राप्त करके इस उपकरण को खरीद सकते हैं।

बिहार चाय विकास योजना के लाभ और विशेषताएं? | Benefits and Features of Bihar Tea Development Scheme?

  • बिहार चाय विकास योजना के तहत चाय की खेती करने वाले किसानों को राज्य सरकार सब्सिडी राशि प्रदान करेगी।
  • इस योजना के अंतर्गत किसानों को 50% से 90% की सब्सिडी राशि प्रदान करेगी जिससे राज्य में चाय की खेती का विस्तार होगा। और किसानों की आय में वृद्वि होगी।
  • चाय विकास योजना के अंतर्गत किसानों को प्रति हेक्टर 247000 की सब्सिडी राशि दी जाएगी।
  • इस योजना के अंतर्गत मिलने वाली सब्सिडी राज्य से सीधे किसानों के बैंक खाते में ट्रांसफर की जाएगी
  • चाय विकास योजना के अंतर्गत सब्सिडी प्राप्त करके किस चाय की खेती करने के लिए नए उपकरण खरीदने सकेंगे। जिससे किसानों को चाय की खेती करने में आसानी होगी।

बिहार चाय विकास योजना के लिए पात्रता | Eligibility for Bihar Tea Development Scheme

बिहार चाय विकास योजना का लाभ सरकार के द्वारा निर्धारित की गई पात्रताओं के अनुसार ही दिया जाएगा। जरूरी पात्रता कुछ इस प्रकार है-

  • किसान बिहार राज्य का निवासी होना चाहिए।
  • बिहार चाय विकास योजना का लाभ सिर्फ चाय की खेती करने वाले किसानों को ही दिया जाएगा।
  • जो किसान 5 एकड़ से 10 एकड़ की जमीन में चाय की खेती कर रहे हैं उन्हें ही इस योजना के पात्र माना जायेगा।

बिहार चाय विकास योजना के लिए जरूरी दस्तावेज | Documents required for Bihar Tea Development Scheme

बिहार चाय विकास योजना का लाभ लेने के लिए किसानो को योजना के आवेदन करना होगा। और आवेदन करने समय कुछ दास्तावेजो की अवश्यकता होगी जो कि इस प्रकार है-

  • आधार कार्ड
  • निवास प्रमाण पत्र
  • किसान कार्ड
  • खेती सें जुड़े दस्तावेज
  • मोबाइल नंबर
  • बैंक खाता पासबुक
  • पासपोर्ट फ़ोटो

बिहार चाय विकास योजना में आवेदन कैसे करें? | How to apply for Bihar Tea Development Scheme?

बिहार चाय विकास योजना क्या है और इससे जुड़ी सभी जानकारी हम आपके ऊपर साझा कर चुके हैं। अब अगर आप ऊपर दी गई जानकारी के अनुसार इस योजना के पात्र हैं। तो आपको इस योजना में अपना आवेदन जरूर कर देना चाहिए। आवेदन करने की जानकारी नीचे स्टेप बाय स्टेप दी गई है। जिसे फॉलो करके आप बेहद आसानी से इस योजना में अपना आवेदन कर सकते हैं-

  • बिहार चाय विकास योजना 2024 में आवेदन करने के लिए सबसे पहले आपको कृषि विभाग बिहार की ऑफिसियल वेबसाइट https://horticulture.bihar.gov.in/ पर जाना होगा। आप इस लिंक पर क्लिक करके सीधे वेबसाइट पर जा सकते है।
  • जैसे ही आप दिए गए लिंक पर क्लिक करेंगे वैसे ही आप बिहार कृषि विभाग की ऑफिसियल वेबसाइट के होम पेज पर आ जाएंगे।
  • बिहार कृषि विभाग के ऑफिसियल वेबसाइट के होम पेज पर आपको अनेको योजनाओं की सूचि देखने को मिलेगी।
  • यहां आपको बिहार चाय विकास योजना का चुनाव करना होगा और उसके नीचे दिए गए आवेदन करें? के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
बिहार चाय विकास योजना चाय की खेती करने वाले किसानों को मिलेगी 50 से 90 की सब्सिडी
  • जैसे ही आप बिहार चाय विकास योजना के आवेदन करें? बटन पर क्लिक करेंगे बैसे ही आपके सामने नया पेज खुल जायेगा।
  • यहां पर आपको इस योजना से जुड़े दिशा निर्देशों को पढ़कर मैं सहमत हूँ टिक करके क्लिक करें।
बिहार चाय विकास योजना चाय की खेती करने वाले किसानों को मिलेगी 50 से 90 की सब्सिडी 1
  • अब आप अगले पेज पर आ जाएंगे। यहां पर आपको आवेदन के प्रकार के चयन में इंडिविजुअल (Indivisual) को सेलेक्ट करना होगा।
  • अब नींचे आपको किसान पंजीकरण संख्या को दर्ज करके विवरण प्राप्त करें के बटन पर क्लिक कर देना नही।
बिहार चाय विकास योजना चाय की खेती करने वाले किसानों को मिलेगी 50 से 90 की सब्सिडी 2
  • इतना करते ही आपके सामने बिहार चाय विकास योजना आवेदन फार्म खुल जाएगा।
  • इस आवेदन फार्म में आपको पूछे गए सभी जानकारी को ध्यानपूर्वक भरना होगा
  • सभी जरूरी जानकारी भरने के बाद आपको मांगेगा दस्तावेजों को इस आवेदन फार्म के साथ संकलन करना होगा
  • सभी जरूरी दस्तावेज और जानकारी भरने के बाद आपको नीचे दिए गए सबमिट बटन पर क्लिक करना होगा
  • सबमिट बटन पर क्लिक करते ही बिहार चाय विकास योजना के आवेदन हो जाएगा।
  • और आपको आवेदन रसीद मिल जाएगी। जिसे आपको सुरक्षित रख लेना है।

बिहार चाय विकास योजना हेल्पलाइन नंबर

किसानों को बिहार विकास चाय योजना से संबंधित किसी प्रकार की परेशानी ना हो और उनकी पूरी मदद की जा सके। इसके लिए बिहार राज्य सरकार ने इस योजना से संबंधित एक हेल्पलाइन नंबर भी जारी किया है। जो कि इस प्रकार है- हेल्पलाइन नंबर:- 0612 2547772

बिहार चाय विकास योजना प्रश्न उत्तर

चाय विकास योजना को किसने शुरू किया है?

चाय विकास योजना को बिहार राज्य सरकार के द्वारा शुरू किया गया है।

किशनगंज में कितनी चाय की खेती होती है

बिहार राज्य के किशनगंज जिले में लगभग 50 एकड़ जमीन पर किसानों के द्वारा चाय की खेती की जाती है

चाय विकास योजना का क्या लाभ है?

चाय विकास योजना के अंतर्गत किसानों को चाय की खेती करने पर 50% से 90% की सब्सिडी राज्य सरकार के द्वारा दी जाएगी।

चाय विकास योजना का उद्देश्य क्या है?

चाय विकास योजना का मुख्य उद्देश्य बिहार राज्य में चाय की खेती के स्तर को बढ़ाना और किसानों की आय में वृद्धि करना है।

चाय विकास योजना का लाभ कैसे मिलेगा?

चाय विकास योजना का लाभ इस योजना में आवेदन करने के बाद मिलेगा आवेदन करने की पूरी जानकारी हमने अपने ऊपर इस आर्टिकल में दे दी है।

निष्कर्ष

आज हमने आपको बिहार चाय विकास योजना | चाय की खेती करने वाले किसानों को मिलेगी 50% से 90% की सब्सिडी के बारे में समस्त जानकारी साझा की है। मैं आशा करता हूं कि अगर आप किस है तो इस योजना में अपना आवेदन कर चुके होंगे।

बाकी अगर आपको बिहार चाय विकास योजना से संबंधित किसी प्रकार की समस्या आ रही है या इस योजना से जुड़ी किसी तरह की अन्य जानकारी चाहिए तो आप हमें कमेंट करके पूछ सकते हैं। हम जल्द कोशिश करेंगे कि आपकी पूरी सहायता करें।

Leave a Comment