[ ऑनलाइन पंजीकरण] बिहार प्रवासी मज़दूर घर वापसी योजना | हेल्प लाइन नंबर

बिहार प्रवासी मज़दूर घर वापसी योजना:-  दुनिया भर में फैले कोविड – 19 के संक्रमण से नागरिकों को सुरक्षित रखने के लिये केंद्र सरकार ने पूरे भारत देश मे 17 मई तक लॉकडाउन लगा दिया है । जिस कारण बिहार राज्य के मज़दूर जो दूसरे राज्य में प्रतिदिन रोज़गार (मजदूरी) करके अपने परिवार की आवश्यकताओं को पूरा करते थे लेकिन अब देश मे चल रहे लॉकडाउन की वजह से देश की गतिविधियों पर रोक लगा दी है जिसके के कारण बिहार प्रदेश के मज़दूर वर्ग लोग बेसहारा हो गए है। जो कि उनके और उनके परिवार के सदस्यों के लिए काफी परेशानी का सबब बन गया है।

लेकिन अब अगर आप बिहार प्रवासी मज़दूर है तो आपके लिए यह खुशखबरी हो सकती है क्योंकि बिहार सरकार ने मज़दूरों को उनके प्रदेश लाने के लिए बिहार प्रवासी मज़दूर घर वापसी योजना की शुरुआत कर दी है। इस योजना के तहत सरकार ने एक पोर्टल लांच किया है जिस पर बाहर फँसे मज़दूर अपना पंजीकरण करके अपने प्रदेश वापस लौट सकते है।

सरकार ने मज़दूरों को उनके घर वापस लाने के लिए पूरी तैयारी कर ली। मतलब सरकार ने अन्य राज्य में फंसे मज़दूरों को वापस लाने के लिए स्पेशल बस और स्पेशल ट्रेन चलाने की व्यवस्था को पूरा कर चुकी है बस जितनी जल्दी मज़दूरों के द्वारा इस योजना के अंतर्गत पोर्टल पर रजिस्ट्रेशन कर दिया जाएगा उतनी जल्दी सरकार मज़दूरों को वापस लाने के लिए उनके फँसे स्थानों पर बस या उसके करीब रेलवे स्टेशन पर भेजी जाएगी। लेकिन इसके लिए पंजीकरण करना सबसे मज़दूरों को ऑनलाइन पंजीकरण करके निजी जानकारी देने होगी।  दोस्तों अब पंजीकरण कैसे करना है इसके बारे में आज हम आपको पूरी जानकारी देंगे –

बिहार प्रवासी मज़दूर घर वापसी योजना | Bihar Pravasi Yatra Yojana

बिहार प्रवासी मज़दूर घर वापसी योजना

बिहार एक ऐसा राज्य है जहां के व्यक्ति अन्य राज्य में सबसे ज्यादा रोज़गार पाने के लिए पलायन करते है। लेकिन अब कोरोना वायरस बढ़ते संक्रमण के कारण देश मे लगे लॉकडाउन की स्थिति में बिहार के मजदूर प्रवासियों का रोज़गार खत्म हो गया है जिस कारण अब प्रवासी मज़दूर अपने राज्य वापस लौटने के लिए रोड पर पैदल निकल पढ़े जो कि प्रवासी मजदूरों और उनके साथ लौट रहे परिवार के सदस्यों को परेशानी का सबब बन गया है।

योजना का नामबिहार प्रवासी मजदूर घर वापसी योजना
किस राज्य में शुरू की गईबिहार राज्य में
किसके द्वारा शुरू की गईबिहार राज्य सरकार के द्वारा
लाभ किसे प्राप्त होगाबिहार राज्य के गरीब नागरिक एवं प्रवासी मजदूरों को
योजना का पात्र किसे बनाया गया हैदूसरे राज्य में फंसे प्रवासी मजदूरों को
मुख्य उद्देश्य क्या हैदूसरे राज्य में फंसे नागरिक को को वापस लाना
आवेदन प्रक्रियाऑनलाइन

लेकिन अब बिहार सरकार ने इस परेशानी को ध्यान में रखते हुए बिहार सरकार ने बिहार प्रवासी मज़दूर घर वापसी योजना की शुरुआत की जिसके अंतर्गत प्रदेश सरकार प्रवासी मज़दूरों को अब उनके घर लाने के लिए स्पेशल ट्रेन चलाने जा रही है। सरकार बिहार के प्रदेश के उन सभी प्रवासी मज़दूरों से अपील की है कि वह घर वापसी के लिए पैदल न निकले सरकार उनके साथ है। तो अब अगर आप भी बिहार राज्य प्रवासी मज़दूर है और राज्य वापस आना चाहता है तो बिहार प्रवासी मज़दूर घर वापसी योजना के तहत शुरू किए पोर्टल पर अपना पंजीकरण अवश्य कर दे –

बिहार प्रवासी मज़दूर घर वापसी योजना के लाभ

  • अन्य राज्यों में फंसे प्रवासी मज़दूर वापस आ सकेंगे।
  • राज्य में आने पर आपका कोरोना टेस्ट कराया जायेगा।
  • इस योजना के तहत सरकार अपने राज्य वापस आने वाले मज़दूरों को खाने की पूरी व्यवस्था करेगी।
  • इस योजना के अंतर्गत सरकार मजदूरों को घर वापस लाने के लिए स्पेशल ट्रेन का संचालन करेगी।
  • ,कोरोना के संक्रमण से आपको आपके परिवार वालो को सुरक्षित रखने के लिए सरकार आपको 14 दिन तक दिन क्वारंटीन में रखा जायेगा।

बिहार प्रवासी मज़दूर घर वापसी के लिए जरूरी दस्तावेज़

आवेदन करने वाले मज़दूर के पास निम्लिखित जरूरी दस्तावेज़ होना अनिवार्य है –

  • मज़दूर प्रवासी बिहार निवासी होना चाहिए।
  • मूल निवास प्रमाण पत्र
  • आधार कार्ड नंबर
  • परिवार में सदस्यों की संख्या
  • राज्य के किस जिले में फंसे है उसकी डिटेल।

बिहार प्रवासी मज़दूर घर वापसी योजना | हेल्पलाइन नंबर

बिहार के किसी भी मज़दूर जो अन्य राज्य में फँसे है उनके घर आने में किसी प्रकार की समस्या ना हो इसके लिए बिहार सरकार प्रदेश के तमाम नोडल अधिकारियो  के हेल्पलाइन नंबर जारी किये है जिन पर सम्पर्क करके प्रवासी सीधे प्रदेश लौटने के लिए अपना पंजीकरण करा  सकते है – बिहार प्रवासी मज़दूर घर वापसी योजना | हेल्पलाइन नंबर कुछ इस प्रकार है –

[ ऑनलाइन पंजीकरण] बिहार प्रवासी मज़दूर घर वापसी योजना
  1. दिल्ली हिमाचल प्रदेश 9599823200 9717691086
  2. जम्मू कश्मीर लद्दाख = 9717691086
  3. पंजाब  = 9473191753
  4. हरियाणा = 8544404189
  5. राजस्थान = 9473191456
  6. झारखंड = 9661472483
  7. आंध्र प्रदेश तेलंगाना = 7250687373
  8. गुजरात = 9810922727
  9. उत्तराखंड = 9473191491

बिहार प्रवासी मज़दूर घर वापसी योजना पोर्टल पर पंजीकरण कैसे करे? 

बिहार राज्य प्रवासी मज़दूर जो किसी अन्य राज्य में रोज़गार की तलास में इस लॉकडाउन की स्थिति में फंसे हुए है वह नीचे दी गयी स्टेप को फॉलो करते हुए पोर्टल पर अपना पंजीकरण कर दे ताकि सम्बन्धित विभाग को आपकी उचित जानकारी मिल सके जिससे की सरकार आपके लिए अपने प्रदेश आने के लिये उचित वाहन की व्यवस्था कर सके –

  • सबसे पहले मजदूर आवेदनकर्ता को इसकी अधिकारिक वेबसाइट र जाना है. 
  • अब यहाँ आपको ऑफिसियल वेबसाइट के होमपेज पर आपको “प्रवासी यात्रा हेतु पंजीकरण” का ऑप्शन  मिलेगा जहाँ आपको क्लिक कर देना है. 
  • अब यहाँ आपको बिहार प्रवासी मज़दूर घर वापसी योजना से जुड़ा फॉर्म मिलेगा जिसमे आपको पूछी गयी अपनी निजी जानकारी जैसे आपका नाम, पहचान पत्र, आप किस राज्य में फँसे है उसकी पूरी जानकारी और बिहार के जिस जिले में आप जाना चाहते है उसका पूरा विवरण भरने के बाद आपको फॉर्म को नीचे दिए गए सबमिट बटन से क्लिक करके सबमिट कर देना है. 
  • अब आपका बिहार प्रवासी मज़दूर घर वापसी योजना में पंजीकरण हो जायेगा जिसकी जानकारी आपको दी जाएगी। up

नोट :- हो सकता है की आपको किसी तकनीकी समस्या के कारण इस वेबसाइट पर पंजीकरण करने में समस्या हो अगर आपके साथ  है तो आपको ऊपर दिए गए नोडल अधिकारी हेल्पलाइन नंबर पर अपनी जानकारी देकर अपना पंजीकरण करा सकते है – 

बिहार प्रवासी मजदूर घर वापसी योजना से संबंधित महत्वपूर्ण प्रश्न उत्तर

बिहार प्रवासी मजदूर घर वापसी योजना क्या है?

यह बिहार राज्य सरकार के द्वारा राज्य उन लोगो के लिए शुरू की गई एक लाभकारी योजना है जो नागरिक लॉक डाउन की बजह से अपने घरों से दूर अन्य राज्यो में फसे हुए है उन्हें अपना जीवन यापन करने के काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है। इसलिए बिहार सरकार ने गरीब नागरिको और प्रवासी मजदूरों को घर वापस लाने के लिए शुरू की गई है।

बिहार प्रवासी मजदूर घर वापसी योजना क्यो शुरू की गई है?

कोरोनावायरस की वजह से केंद्र सरकार में पूरे देश में लॉक डाउन की घोषणा की है जिसके चलते कई ऐसे प्रवासी मजदूर हैं जो काम की तलाश में अपने घरों से दूर अन्य राज्यों में फंसे हुए हैं उन नागरिकों के लिए घर वापसी कराने के लिए बिहार राज्य सरकार में बिहार प्रवासी मजदूर घर वापसी योजना का शुभारंभ किया है।

बिहार प्रवासी मजदूर घर वापसी योजना का लाभ कैसे मिलेगा?

अगर आप बिहार राज्य के निवासी हैं और आप अपने घर वापस आना चाहते हैं तो आपको बिहार प्रवासी मजदूर घर वापसी योजना के ऑनलाइन पोर्टल पर जाकर अपना रजिस्ट्रेशन करना होगा।

बिहार प्रवासी मजदूर घर वापसी योजना का पात्र किसे बनाया गया है?

बिहार प्रवासी मजदूर घर वापसी योजना का पात्र मुख्य रूप से बिहार राज्य के गरीब एवं प्रवासी मजदूरों को बनाया गया है जो काम की तलाश में अपने राज्य से दूसरे राज्य में गए थे लेकिन अब वह लॉकडाउन की वजह से दूसरे राज्य में फंसे हुए हैं।

क्या बिहार प्रवासी मजदूर घर वापसी योजना के अंतर्गत कोरोनावायरस टेस्ट किया जाएगा?

जी हां इस योजना के अंतर्गत घर वापस आने वाले प्रवासी मजदूरों का कोरोना टेस्ट कराया जाएगा इसके अतिरिक्त बाहर से आए नागरिकों को 14 दिन के लिए Corinthian भी किया जाएगा।

निष्कर्ष

इस कोरोना वायरस संक्रमण की वजह से इस समय देश के मज़दूरों के लिए सबसे बड़ी समस्या बन गया है क्योंकि वह अपनी रोज़ की मजदूरी करके परिवार का पालन पोषण करते थे लेकिन अब मजदूरी मिलना मुश्किल हो गया है ऐसे में बिहार प्रवासी के बहार फँसे मज़दूरों के लिए अपना जीवन यापन करने में काफी कठिनाइयों का सामना करना पढ़ रहा है.

इसी परेशानी को समझते हुए बिहार सरकार ने राज्य के बहार अन्य राज्यों में फँसे मज़दूरों के लिए अपने राज्य में बुलाने के लिए मध्य प्रदेश प्रवासी मज़दूर घर वापसी योजना पोर्टल की शुरुआत की है इससे आसानी से मज़दूर अपना पंजीकरण करके अपने अपने राज्य में वापसी कर सकेंगे।

Spread the love

Leave a Comment