डोर स्टेप बैंकिंग क्या है? डोर स्टेप बैंकिंग के लिए रजिस्ट्रेशन कैसे करें?

भारत देश के बहुत सारे ऐसे क्षेत्र है जहां बहुत सारे ऐसे क्षेत्र है जहाँ Banks मौजूद नही है उन लोगो को बैंकों सम्बंधित सुविधा का लाभ लेने के लिए काफी दूर जाना पड़ता है. खासकर वरिष्ठ नागरिकों (Senior citizens) को बैंक में जाने में काफी समस्या होती है साथ ही उनके समय की भी काफी बर्बादी होती है। वरिष्ठ नागरिक बैंक में ना पहुंचने के कारण अपने बैंक संबंधित सभी कार्य को पूरा करने में असमर्थ (Unable) रहते है,

इसी बात को केंद्र मानकर भारत की वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण जी (Finance Minister Nirmala Sitharaman) ने डोर स्टेप बैंकिंग सर्विस (internet banking at your doorstep) की शुरुआत की है. जिसकी शुरुआत लोगों तक बैंक को को पहुंचाने के लिए किया गया है। इस सुविधा के अंतर्गत सबसे अधिक लाभ (Benefits) ऐसे नागरिकों को प्राप्त होगा जो नागरिक बैंक में आने जाने के लिए असमर्थ है।

अगर आप भी आरबीआई बैंक तथा भारत सरकार के द्वारा शुरू की गई डोर स्टेप बैंकिंग सर्विस क्या है? (What is doorstep banking service?) के संबंध में जानकारी प्राप्त करना चाहते हैं तो आपको हमारा यह आर्टिकल पूरा अंत (Last) तक पढ़ना होगा इस आर्टिकल के माध्यम से हम आपको डोर स्टेप बैंकिंग सर्विस के लाभ और इससे संबंधित कई महत्वपूर्ण जानकारी (Important information) साझा करेंगे जो आपके काफी काम आएंगी.

डोर स्टेप सर्विस क्या है? (What is door step Service?)

भारत सरकार के वित्त मंत्री (Finance Minister) निर्मला सीतारमण जी के द्वारा सरकारी बैंकों के लिए डोर स्टेप बैंकिंग सर्विस (Doorstep banking service) का शुभारंभ किया गया है हालांकि डोर स्टेप बैंकिंग सर्विस Inhand service excellence के अंतर्गत वर्ष 2018 में पेश किया गया था लेकिन इसकी शुरुआत अक्टूबर 2020 को की गई थी।

स्टेप बैंकिंग क्या है डोर स्टेप बैंकिंग के लिए रजिस्ट्रेशन कैसे करें

इस सर्विस को खासतौर पर 70 वर्ष से अधिक आयु के वरिष्ठ नागरिकों, दिव्यांगजन व दृष्टि बाधित लोगों के लिए शुरू किया गया था, जो बिना बैंक में जाए घर बैठे किसी भी तरह की बैंकिंग सेवा (Banking service) का लाभ उठा सकते हैं लेकिन आज के समय में डोर स्टेप बैंकिंग सर्विस का लाभ देश का कोई भी नागरिक आसानी से उठा सकता है।

डोर स्टेप बैंकिंग सर्विस (Doorstep banking service) के माध्यम से अब लोग अपने घर पर रहकर ही बैंकिंग सेवाओं जैसे कि अकाउंट में पैसे जमा करना, पैसे निकालना अथवा बैंक संबंधित सभी तरह की सेवाओं का लाभ उठा सकेंगे। इस सर्विस का लाभ उठाने के लिए ग्राहकों को सरकार द्वारा निर्धारित किए है कुछ शुल्क (Fee) का भुगतान करना होगा। जिसके बाद हर नागरिक बैंक से संबंधित सभी समस्याओं का आनंद घर बैठे उठा सकता है।

डोरस्टेप बैंकिंग में मिलनें वाली सुविधाएँ (Merging Facilities in Doorstep Banking)

डोरस्टेप बैंकिंग सर्विस के अंतर्गत सभी बैंक ग्रहको के लिए बहुत सारी सेवाएं (Services) घर बैठे प्रदान की जाएगी, अगर आप भी जानना चाहते है कि डोरस्टेप बैंकिंग सर्विस के तहत कौन सी सुविधाएं मिलेंगी तो नीचे दिए जाने वाले Points को Carefully पढ़े।

  • इस सेवा के शुरू होने से बैंक ग्राहक अपने बैंक खाते में Cash deposit करने के साथ ही विड्रॉल भी कर सकता है।
  • डोरस्टेप बैंकिंग सर्विस के अंतर्गत सभी लाभार्थी घर बैठे अपने बैंक से संबंधित जानकारी या Account statement की जानकारी प्राप्त कर सकेंगे।
  • FD पर लगने वाले ब्याज पर लगने वाले Tex के बचाव के लिए आप फॉर्म 15G/15H घर बैठे जमा कर सकेंगे।
  • Doorstep Banking Service के तहत अब लोग धोखेबाजी या फ्रॉड से बचेंगे।
  • इस सुविधा के अंतर्गत लाभ लेने के लिए  नागरिको को Doorstep service agent से अकाउंट नंबर, एटीएम कार्ड या इसके पिन से सम्बंधित कोई जानकारी शेयर नही करनी होगी। 
  • लाभार्थी अपने मोबाइल नंबर के माध्यम से सभी जरूरी जानकारी प्राप्त कर सकता है।

डोरस्टेप बैंकिंग सर्विस कैसे मिलेगी? (How to Get Doorstep Banking Service?)

भारत सरकार के द्वारा डोरस्टेप बैंकिंग सुविधा का लाभ सभी नागरिको तक पहुँचने के लिए प्रत्येक बैंक में एक कॉमन सर्विस प्रोवाइडर को नियुक्त किया गया है। जो सभी बैंक के ग्राहकों को ऑनलाइन पोर्टल और मोबाइल एप के माध्यम से Online Bank Service का लाभ प्रदान करेगा।

इसलिए अगर आप भी घर बैठे बैंकिंग सर्विस का लाभ उठाना चाहते है तो इसके लिए आपको सरकारी बैंक में जाकर कॉमन सर्विस प्रोवाइडर (Common service provider) से संपर्क करना होगा।

इसके अलावा आप चाहे तो बैंक की आधिकारिक वेबपेज अथवा मोबाइल एप के माध्यम से भी इस सेवा का लाभ घर बैठे उठा सकते है।

डोरस्टेप बैंकिंग सर्विसेज के लिए शुल्क (Doorstep Banking Service Fee)

जैसा कि हम आपको पहले भी बता चुके है कि डोर स्टेप्स सर्विस (Door steps service) का लाभ लेने के लिए आपको निर्धारत शुल्क का भुगतान करना होगा। जो अलग अलग बैंकों के लिए अलग-अलग है चलिये इनके बारे में जानते है-

  • अगर आप यूनियन बैंक ऑफ इंडिया के ग्रहक है और आप इस सर्विस का लाभ लेना चाहते है तो आपको प्रति विजिट पर 75 रुपये का शुल्क देना होगा, जिंसमे GST Charge अलग से देना होगा।
  • भारतीय स्टेट बैंक के जो भी ग्राहक घर बैठे डोर स्टेप बैंकिंग सर्विस का लाभ लेना चाहते है उन्हें हर विजिट पर ₹100 का शुल्क के साथ GST भी देना होगा।
  • जो लोग पंजाब एंड सिंध बैंक के ग्राहक है और वह बैंक जाने में असमर्थ है तथा उन्हें Doorstep Banking Service का लाभ लेना है तो उन्हें GST तथा कन्वेनैंस चार्ज के रूप में 150 तथा 50 रुपये का शुल्क देना है।

Note- ऊपर बतायी जाने वाली सर्विस शुल्क को आपको बैंक में नियुक्त किये गए एजेंट को नही देना है बल्कि सारी प्रोसिस पूरी होने के बाद आपके बैंक एकाउंट से बैंक द्वारा खुद कट ली जाएगी।

डोरस्टेप बैंकिंग रजिस्ट्रेशन कैसे करें? (How to do Doorstep Banking Registration?)

अगर आप भी घर बैठे सभी बैंक सेवाओं का लाभ लेने के लिए डोर स्टेप सर्विस को प्राप्त करना चाहते है तो आप आसानी से बैंक के मोबाइल एप्लीकेशन, वेबसाइट या कॉल सेंटर या टोल-फ्री नंबर पर कॉल के माध्यम से रजिस्ट्रेशन करके इस सेवा का लाभ ले सकते है।

लेकिन पहले आपको बैंक में जा कर एक एप्लीकेशन फॉर्म भरना होगा। इसके अलावा आप Doorstep Banking Service का लाभ घर बैठे बैंक में रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर से टॉल फ्री नंबर पर कॉल करके भी अपना रजिस्ट्रेशन कर सकते है।

जब आपकी डोरस्टेप बैंकिंग सर्विस की प्रक्रिया पूरी हो जाएगी तो आपको एक कन्फर्मेशन एसएमएस प्राप्त होगा। जिसमें आपको https://www.psbdsb.in/ वेबसाइट का लिंक मिलेगा इस पर जा कर आप अपना रजिस्ट्रेशन कर सकते है।

DoorSteps Banking Service Related FAQs

डोरस्टेप बैंकिंग सर्विस क्या है?

यह एक ऑनलाइन सुविधा है जिससे खास तौर पर उन नागरिको के लिए शुरू किया गया था जो बैंक में जानने में असमर्थ है और उन्हें बैंक सम्बंधित कार्यो को पूरा करने के लिए काफी दूर जाना पड़ता है।

डोरस्टेप सर्विस का लाभ को उठा सकता है?

इस सर्विस का लाभ आसानी से कोई भी 70 वर्ष से अधिक आयु के वरिष्ठ नागरिकों, दिव्यांगजन व दृष्टि बाधित लोगों के अतिरिक्त सभी बैंकों के ग्राहक उठा सकते है।

क्या डोरस्टेप सर्विस का लाभ उठाने के लिए किसी भी तरह के शुल्क का भुगतान करना होगा?

जी हाँ, अगर आप डोरस्टेप बैंकिंग सर्विस का लाभ लेना चाहते है तो आपको निर्धारित किये गए शुल्क का भुगतान करना होगा। जो अलग-अलग बैंकों के लिए अलग-अलग निर्धारित की गई है।

इस सर्विस को किसके द्वारा शुरू किया गया है?

डोर स्टेप सर्विस को भारत के वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण जी के द्वारा अक्टूबर 2020 में शुरू किया गया था।

डोर स्टेप सर्विस को शुरू करने का मुख्य उद्देश्य क्या है?

इस सर्विस को शुरू करने का मुख्य उद्देश्य देश के वरिष्ठ नागरिक तक बैंक से संबंधित सभी सुविधाएं उपलब्ध कराना है।

निष्कर्ष

आज की इस पोस्ट में हमने आपके लिए डोर स्टेप बैंकिंग सर्विस क्या है? (What is door step banking service?) तथा इसके क्या लाभ है इसके बारे में आप सभी के लिए विस्तार से पूरी जानकारी प्रदान की है आशा करते है कि आपको हमारे द्वारा दी जाने वाली सभी जानकारी काफी पसंद आई होंगी अगर आपको यह पोस्ट अच्छी लगी हो तो आप इस पोस्ट को अधिक से अधिक शेयर करे तथा अगर आप इसके संबंध में कोई अन्य जानकारी या प्रश्न पूछना चाहते है तो कमेंट में पूछ सकते है।

Leave a Comment