ई-पासपोर्ट क्या है? | ई-पासपोर्ट कैसे बनवाएं?

जब भी बात पासपोर्ट या Visa की आती है हर किसी के मन मे विदेश जाने की प्रवृत्ति उत्पन्न होती है। कई ऐसे लोग है जो दूसरे देश मे पढ़ाई, यात्रा आदि के लिए जाना चाहते है जिसके लिए पासपोर्ट होना बेहद जरूरी होता है। इसका मुख्य कारण यह है पासपोर्ट विदेश यात्रा के लिए एक बहुत ही महत्वपूर्ण सरकारी दस्तावेज है जिससे बनवाना बहुत ही कठिन कार्य है। लेकिन आज के समय मे कई ऐसे लोग है।

 जो फ़र्जी पासपोर्ट का निर्माण कर रहे है। इस फर्जीवाड़े को रोकने के लिए तथा देशवासियों की सुरक्षा को देखते हुए भारत सरकार ने आम बजह 2022-23 में Online E- Passport जारी करने का निर्माण लिया है। Chip Enabled Passport को कोई भी नागरिक Online पूरी सुरक्षा के साथ बनवा सकता है। क्या आपको पता है ई- पासपोर्ट क्या है? यदि नही तो यह लेख आपके लिए ही है क्योंकि इस लेख में आज हम बॉयोमेट्रिक पासपोर्ट और ई-पासपोर्ट के सम्बंध में सारी जानकारी प्रदान करेंगे। तो आइए जानते है –

ई-पासवर्ड क्या है? | What is an E-passport

ई-पासपोर्ट क्या है ई-पासपोर्ट कैसे बनवाएं

भारत में कुल 36 ऐसे कार्यालय हैं जो देश के सभी नागरिक को के लिए पासपोर्ट जारी करती है. पासवर्ड एक विदेश यात्रा के लिए एक बहुत ही महत्वपूर्ण दस्तावेज है। जिसे भारत सरकार के द्वारा पात्र नागरिकों के लिए जारी किया जाता है। देश में बढ़ रहे पासवर्ड फर्जीवाड़े पर रोक लगाने तथा नागरिकों को सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए केंद्र सरकार ने सभी पात्र भारतीयों को ऑनलाइन मोड पर ई पासपोर्ट जारी करने का निश्चय किया है।

भारत में सबसे पहले वर्ष 2008 में पूर्व राष्ट्रपति प्रतिभा देवी सिंह पाटिल का ई पासवर्ड जारी किया गया था। जिससे इलेक्ट्रिनिक पासपोर्ट (E Passport) एनआईसी अर्थात राष्ट्रीय सूचना विज्ञान केंद्र, इंडियन इंस्टिट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी (IIT) कानपुर और, इन्टरनेट सर्विस प्रोवाइडर (ISP) और विदेश मंत्रालय के अधिकारियों द्वारा डेवलप किया गया था।

जहां पहले के समय में नागरिकों को अपना पासपोर्ट बनवाने के लिए पासपोर्ट ऑफिस के बाहर लंबी लाइनों में खड़ा होना पड़ता है। जिसकी वजह से लोगों के समय और पैसे की बहुत अधिक बर्बादी होती थी लेकिन अब इच्छुक नागरिक घर बैठे ऑनलाइन इंटरनेट के माध्यम से पासपोर्ट बनवाने के लिए अप्लाई कर सकते हैं।

पासपोर्ट बनवाने की प्रक्रिया में किसी भी तरह का बदलाव नहीं किया गया है। बस भारत सरकार द्वारा ई पासवर्ड आवरण को अपनाया गया है जिससे कि अब बायोमैट्रिक सिस्टम के द्वारा नागरिकों को पासपोर्ट उपलब्ध कराया जाएगा। बायोमैट्रिक सिस्टम से पासवर्ड प्रदान करने की प्रक्रिया भारत ही नहीं बल्कि संयुक्त राज्य अमेरिका यूनाइटेड किंग्डम और जर्मनी सहित 120 देश अपना रहे हैं।

बायोमेट्रिक पासपोर्ट क्या है? | What is a biometric pasport?

भारत सरकार के द्वारा पासपोर्ट के फर्जीवाड़े पर पूर्ण रूप से प्रतिबंध लगाने के लिए आईएसपी ई पासपोर्ट निर्माण के लिएISP इलेक्ट्रॉनिक कॉन्टैक्टलेस इनले और ऑपरेटिंग सिस्टम को खरीदा है। सरकार द्वारा जारी किए गए निर्देशों के अनुसार जिस प्रकार पहले पासवर्ड बनवाने के लिए आवेदनकर्ताओं का आवेदन करना होता था ठीक उसी प्रकार ई पासपोर्ट के लिए भी आवेदन प्रक्रिया होगी। अभी तक भारत सरकार द्वारा 20000 से भी अधिक अधिकारियों के पासवर्ड जारी किए जा चुके हैं।

बायोमेट्रिक पासवर्ड जारी करने से पासपोर्ट की होने वाली कालाबाजारी और नागरिकों के साथ होने वाली धोखाधड़ी को रोकने में काफी मदद मिलेगी। साथ ही नागरिकों को अपना पासपोर्ट बनवाने के लिए पासपोर्ट ऑफिस में लंबी लाइनों में खड़े होकर अपना समय बर्बाद करने की आवश्यकता नहीं होगी वह घर बैठे स्मार्टफोन या लैपटॉप के माध्यम से ऑनलाइन पासपोर्ट बनवाने के लिए आसानी से आवेदन कर सकते हैं।

ई-पासपोर्ट क्यों जारी किया जा रहा है?

वैसे तो कोई भी आम नागरिक विदेश यात्रा के लिए पासपोर्ट ऑफिस में जाकर अप्लाई कर सकता है लेकिन इसके लिए नागरिकों को लंबे समय तक अपना अक्सर आने की प्रतीक्षा करनी पड़ती है जिसकी वजह से समय पर लोगों को उनका पासपोर्ट नहीं मिल पाता तथा देश में भी पासपोर्ट बनाने को एक बिजनेस के तौर पर इस्तेमाल किया जा रहा है।

कई ऐसे लोग हैं, जो लोगों को फर्जी पासपोर्ट उपलब्ध करा रहे हैं जिसे नागरिकों की सुविधा और सुरक्षा दोनों को बड़ा खतरा है इसी बात को केंद्र बनाकर भारत के वित्त मंत्री ने हाल ही में जारी किए जाने वाले आम बजट में सभी पात्र नागरिकों को e-passport की सुविधा प्रदान की है। जिसके बाद से अब कोई भी नागरिक घर बैठे ऑनलाइन इंटरनेट के माध्यम से अपना पासपोर्ट बनवाने के लिए अप्लाई कर सकता है।

ई-पासपोर्ट के लाभ | Benefits of E-passport

ई-पासपोर्ट बनवाने से पूर्व आपको ही ई पासपोर्ट से होने वाले लाभ के बारे में जानकारी होना बेहद आवश्यक है आपकी सुविधा के लिए हमने इलेक्ट्रॉनिक पासपोर्ट के लाभ नीचे पॉइंट्स में बताएं हैं जो इस प्रकार से हैं-

  • अगर आप e-passport बनवाने के लिए अप्लाई करते हैं तो आपको अधिक समय तक इंतजार नहीं करना होगा क्योंकि ई पासपोर्टकी जांच कुछ ही सेकंड में की जा सकती है.
  • ई पासपोर्ट के माध्यम से लोगों के सभी बायोमैट्रिक डाटा पर आसानी से नजर रखी जा सकती है. जिससे डाटा चोरी या डुप्लीकेट पासवर्ड निर्माण को पूर्ण रूप से रोका जा सकता है।
  • यदि कोई पासवर्ड में किसी भी प्रकार का हस्तक्षेप करने का प्रयास करता है तो ई पासवर्ड प्रमाणीकरण यानी ऑथेंटिकेशन फेल हो जाता है।
  • सरकार द्वारा जारी किए जाने वाले e-passport के किसी भी तरह के डाटा को डिलीट नहीं किया जा सकता क्योंकि इसमें बहुत हाई सिक्योरिटी सिस्टम का उपयोग किया गया है.
  • ई-पासपोर्ट के मार्केट में आने से नकली पास फोटो का निर्माण होना पूरी तरह से रोका जा सकता है।

ई-पासपोर्ट की विशेषताएं | Features of E-passport in Hindi

ई-पासपोर्ट एक इलेक्ट्रॉनिक पासवर्ड है जिसमें एक इनलाइट चिपका उपयोग किया गया है इस पिक में पासवर्ड धारक की सभी व्यक्तिगत जानकारी होती है। इस इनलाइट चिप में 64 किलो बाइट स्टोरेज स्पेस और एक एंबेडेड आयताकार एंटीना का उपयोग किया गया है।

इस चिप में 30 से भी अधिक अंतरराष्ट्रीय यात्राओं का पूरा विवरण स्टोर किया जा सकता है। यदि कोई भी व्यक्ति की पासवर्ड में लगी इस चिप के साथ कोई छेड़छाड़ करता है तो पासवर्ड की ऑथेंटिकेशन फेल हो जाएगा जिससे कोई भी व्यक्ति पासपोर्ट का नकली निर्माण नहीं कर पाएगा।

ई पासपोर्ट कैसे बनाये?

ई पासपोर्ट बनवाने के लिए आपको ठीक उसी प्रकार आवेदन करना होगा जिस प्रकार आप पहले पासपोर्ट बनवाने के लिए अप्लाई करते थे क्योंकि भारत सरकार द्वारा पासपोर्ट बनवाने की प्रक्रिया में किसी भी तरह का फेरबदल नहीं किया गया है। इसलिए आपको ई पासवर्ड बनवाने के लिए ऑनलाइन आवेदन करने के बाद सभी तरह के चरणों से गुजरना होगा।

ई पासपोर्ट से संबंधित कुछ महत्वपूर्ण प्रश्न और उनके उत्तर

ई पासपोर्ट क्या है?

ई-पासपोर्ट एक इलेक्ट्रॉनिक पासवर्ड है जिसमें ऐसी चिप का उपयोग किया जाएगा जिससे नागरिक को कि किसी भी तरह का Data चोरी न हो।

ई-पासपोर्ट किसके द्वारा बनाया?

ई पासपोर्ट का निर्माण नासिक स्थित इंडिया सिक्योरिटी प्रेस के द्वारा किया जाएगा। जिसे बनवाने के लिए सभी लोगों को ऑनलाइन आवेदन करना होगा।

क्या इसमें लगी चिप के साथ छेड़छाड़ करने पर पासवर्ड की वैधता खत्म हो जाएगी?

ई पासपोर्ट में इस्तेमाल की जाने वाली चिप के साथ यदि कोई छेड़छाड़ करता है तो पासपोर्ट की ऑथेंटिकेशन खत्म हो जाएगा

ई-पासपोर्ट बनवाने के लिए क्या करना होगा?

इसके लिए आपको पासपोर्ट कार्यालय या ऑनलाइन ऑफिशल वेबसाइट पर जाकर पहले की तरह आवेदन करना होगा।

निष्कर्ष

ई पासपोर्ट, पासपोर्ट के होने वाले फर्जीवाड़े को रोकने के लिए उठाया गया एक बहुत महत्वपूर्ण कदम है। जिसके माध्यम से नागरिकों की सुविधा और सुरक्षा को सुरक्षित रखने में मदद मिलेगी। अगर आप ही ई पासपोर्ट के संबंध में जानकारी प्राप्त करना चाहते हैं तो हमने अपने इस आर्टिकल के माध्यम से विस्तार पूर्वक ई पासपोर्ट क्या है? के बारे में पूरी जानकारी उपलब्ध कराई है। हमें आशा है कि, आप को हमारा यह आर्टिकल पसंद आया होगा कमेंट सेक्शन में कमेंट करके अपने विचार हमारे साथ जरुर शेयर करें।

Spread the love

Leave a Comment