एकीकृत बागवानी विकास मिशन 2024 | लाभ, पात्रता, उद्देश्य व अप्लाई प्रक्रिया | Ekikrit Bagvani Vikas Mission 2024

|| एकीकृत बागवानी विकास मिशन 2024 क्या है? | Ekikrit Bagvani Vikas Mission 2024 Kya Hai in Hindi | एकीकृत बागवानी विकास मिशन योजना का उद्देश्य | Objective of Integrated Horticulture Development Mission Scheme | एकीकृत बागवानी विकास मिशन योजना के तहत ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन कैसे करें? | How to Register For Ekikrit Bagvani Vikas Mission Yojana Online ||

भारत देश के अधिकतर लोगों की आजीविका खेती पर निर्भर करती है यानी की भारत में रहने वाले अधिकांश लोग खेती करने अपना जीवन व्यतीत करते है लेकिन आर्थिक तंगी के कारण किसानों को खेती करने में काफी दिक्कत होती है हालांकि देश के किसानों की आर्थिक स्थिति सुधारने और उनकी आय में वृद्धि करने के लिए भारत सरकार और राज्य सरकारों के द्वारा अनेक प्रकार की अलग अलग योजनाएं चलाई जा रही है। 

इसी मुहिम को आगे बढ़ाते हुए कृषि और किसान कल्याण मंत्रालय भारत सरकार के द्वारा Ekikrit Bagvani Vikas Mission Yojana 2024 को शुरू करने की घोषणा की है। इस योजना के माध्यम से बागवानी फसलों का उत्पादन करने वाले किसानों को कई प्रकार के लाभ प्रदान किए जाएंगे। अगर आप एकीकृत बागवानी विकास मिशन 2024 से जुड़ी सभी महत्वपूर्ण जानकारी प्राप्त करना चाहते हैं तो आप सभी को ध्यानपूर्वक इस आर्टिकल को पूरा पढ़ना होगा.

क्योंकि आज के इस लेख में हम केंद्र सरकार के द्वारा किसानों के कल्याण हेतु शुरू की Ekikrit Bagvani Vikas Mission Yojana का पूरा ब्यौरा विस्तार पूर्वक उपलब्ध कराने वाले हैं।

Contents show

एकीकृत बागवानी विकास मिशन 2024 क्या है? | Ekikrit Bagvani Vikas Mission 2024 Kya Hai in Hindi

भारत देश में बागवानी फसलों जैसे फलों, सब्जियों, मसाले, मशरूम, जड़ कंद फसलों, फूल व सुगंधित पौधों, नारियल, काजू, बादाम और कोको, बांस, मधुमक्खी पालन, जैविक खेती, बागवानी यंत्रीकरण इत्यादि का उत्पादन करने वाले किसानों को मजबूती प्रदान करने के लिए कृषि और किसान कल्याण मंत्रालय, भारत सरकार द्वारा अप्रैल 2014 में एकीकृत बागवानी विकास मिशन योजना (MIDH) को शुरू किया गया। 

एकीकृत बागवानी विकास मिशन 2024 लाभ, पात्रता, उद्देश्य व अप्लाई प्रक्रिया Ekikrit Bagvani Vikas Mission 2024

जिसके माध्यम से विभिन्न प्रकार की फसलों का उत्पादन करने वाले किसानों को उपज को सुरक्षित रखने के लिए भंडारण निर्माण हेतु अनुदान राशि सब्सिडी के रूप में प्रदान की जाएगी। Ekikrit Bagvani Vikas Mission Yojana के अंतर्गत किसानों को मिलने वाली सब्सिडी का 85% भाग भारत सरकार के द्वारा तथा अन्य 15% अनुदान राशि राज्य सरकार के द्वारा मुहैया कराई जाएगी। अर्थात किसानों को फसलों को संरक्षित रखने के लिए भंडारण निर्माण हेतु सरकार के द्वारा 100% धनराशि उपलब्ध कराई जाएगी। 

जो भी इच्छुक नागरिक इस योजना के तहत लाभ प्राप्त करना चाहते हैं वह आसानी से Ekikrit Bagvani Vikas Mission 2024 के अंतर्गत आवेदन कर सकते हैं। आपको इस योजना का लाभ प्राप्त करने के दौरान कोई भी असुविधा ना हो इसलिए हमने एकीकृत बागवानी विकास मिशन योजना के लाभ, उद्देश्य, पात्रता मापदंड, आवश्यक दस्तावेज और आवेदन प्रक्रिया की पूरी जानकारी विस्तार से उपलब्ध कराई है। 

एकीकृत बागवानी विकास मिशन योजना का उद्देश्य | Objective of Integrated Horticulture Development Mission Scheme

भारत सरकार के द्वारा एकीकृत बागवानी विकास मिशन योजना 2024 को शुरू करने का प्रमुख उद्देश्य भारत देश बागवानी फसलों को एक योजना में समाहित कर इनका चौमुखी विकास करना है। जिसके लिए केंद्र सरकार के द्वारा देश के सभी फलों, सब्जियों, जड़ व कंद फसलों, मशरूम, मसाले, फूल, सुगंधित पौधों, नारियल, काजू, कोको और बांस इत्यादि के उत्पादन करने वाले किसानों को भंडारण का निर्माण करने हेतु आर्थिक सहायता प्रदान की जाएगी।

इसके अलावा देशभर में बागवानी फसलों को बढ़ावा देने के लिए राष्ट्रीय बांस मिशन, राष्ट्रीय बागवानी बोर्ड, नारियल विकास बोर्ड एवं केंद्रीय बागवानी संस्थान जैसे संगठनों की स्थापना देखी जा रही है ताकि बागवानी क्षेत्र का विकास करके बागवानी फसलों के उत्पादन को बढ़ाया जा सके।

आंवले की खेती करने पर बिहार सरकार देगी 30 हजार रुपए तक की सब्सिडी

जैसा कि आप सभी जानते हैं कि आंवले के पौधे लगाने के 3 से 4 सालों के अंदर फलाना शुरू होते हैं जिसके दौरान किसानों को तकरीबन 8 से 9 साल तक पौधों की देखभाल और प्रबंधन करना पड़ता है उसके बाद ही 1 कुंटल तक आंवले का उत्पादन होता है। आंवले की खेती करने वाले किसानों को सब्सिडी के रूप में आर्थिक सहायता प्रदान करने के लिए बिहार राज्य सरकार के द्वारा Ekikrit Bagvani Vikas Mission Yojana 2024 के अंतर्गत मुख्यमंत्री बागवानी मिशन योजना को शुरू कर दिया है।

बिहार राज्य सरकार के द्वारा इस योजना को मुख्य रूप से अपने राज्य में किसानों को बागवानी की फसलों को लेकर प्रोत्साहित करने के लिए शुरू किया गया है जिसके अंतर्गत आंवले की खेती करने वाले किसानों को एक हेक्टर पर 30 हजार रुपए की सब्सिडी प्रदान की जा रही है।

उत्तर प्रदेश सरकार 182 करोड़ रुपए का दिया जा रहा अनुदान 

केंद्र सरकार के द्वारा बागवानी फसलों के प्रति किसानों को प्रोत्साहित करने और उनकी फसल को संरक्षित करने के लिए Ekikrit Bagvani Vikas Mission को शुरू किया गया है जिसके अंतर्गत अभी तक उत्तर प्रदेश सरकार के द्वारा अपने राज्य में 125 शीतगृह स्थापित किए जा चुके है।

इसके अलावा राज्य में लो कॉस्ट प्रिजर्वेशन इकाइयों, पैकिंग हाउस, भंडारगृह आदि की स्थापना के लिए उत्तर प्रदेश सरकार के द्वारा लाभार्थी किसानों को 182 करोड रुपए का अनुदान देने का प्रावधान रखा गया है। जिसके माध्यम से उत्तर प्रदेश राज्य में 572 खाद्य प्रसंस्करण परियोजनाएं का निर्माण किया जा रहा है ताकि राज्य के किसानों की आर्थिक स्थिति सुधार कर उनकी आय में वृद्धि की जा सके।

एकीकृत बागवानी मिशन योजना के प्रमुख घटक

भारत सरकार के द्वारा Ekikrit Bagvani Vikas Mission के अंतर्गत कई उप योजनाएं घटक के रूप में शामिल की गई है। जिनके बारे में जानने के लिए आप नीचे बताए जाने वाले सभी पॉइंट्स को जरूर देखें, जो निम्न प्रकार से है-

  • राष्ट्रीय बागवानी मिशन (NHM)
  • केंद्रीय बागवानी संस्थान (CIH) नागालैंड
  • नारियल विकास बोर्ड (CDB)
  • राष्ट्रीय बागवानी बोर्ड (NHB)
  • पूर्वोत्तर और हिमालयी राज्यों के लिए बागवानी मिशन (HMNEH)

एकीकृत बागवानी मिशन योजना के लाभ | Benefits of Ekikrit Bagvani Vikas Mission Yojana 2024 

भारत के कृषि एवं किसान कल्याण मंत्रालय के द्वारा एकीकृत भागवती मिशन योजना 2024 को प्रारंभ किया गया है इस योजना के माध्यम से बागवानी खेती से संबंध रखने वाले किसानों को कई प्रकार के लाभ उपलब्ध कराए जाएंगे, जिनमें से कुछ के बारे में हमने विस्तार पूर्वक सूचीबद्ध रूप में नीचे बताया है। जो कुछ इस प्रकार से है, जैसे-

  • केंद्र सरकार के द्वारा किसानों को बागवानी खेती की ओर प्रोत्साहित करने और उनकी आर्थिक स्थिति सुधारने के लिए एकीकृत बागवानी मिशन योजना को प्रारंभ किया है।
  • इस योजना के माध्यम से सभी पात्र किसानों को केंद्र अथवा राज्य सरकार के द्वारा भंडारण निर्माण हेतु आर्थिक सहायता राशि प्रदान की जाएगी।
  • राष्ट्रीय बागवानी मिशन योजना 2024 के माध्यम से केंद्र सरकार की ओर से किसानों को 85% का अनुदान और वही राज्य सरकार के द्वारा 15% अनुदान प्रदान किया जाएगा।
  • यानी कि लाभार्थी किसानों को भंडारण निर्माण हेतु इस योजना के तहत शत प्रतिशत लाभ प्राप्त होगा।
  • इसके अंतर्गत फलों, सब्जियों, मसाले, मशरूम, जड़ कंद फसलों, फूल व सुगंधित पौधों, नारियल, काजू, बादाम और कोको, बांस, मधुमक्खी पालन, जैविक खेती, बागवानी यंत्रीकरण इत्यादि का उत्पादन करने वाले किसानों को लाभ मिलेगा।
  • अब किसान आर्थिक तंगी होने के बावजूद भी अपने द्वारा किए गए उत्पादन को संरक्षित करने के लिए कोल्ड हाउस स्टोरेज का निर्माण करा पाएंगे।
  • जिससे ना सिर्फ देश के अधिक से अधिक किसान बागमरी खेती करने हेतु प्रोत्साहन हो होंगे बल्कि किसानों की आय में भी वृद्धि होगी।
  • किसानों की आय बढ़ने से उनकी आर्थिक स्थिति में सुधार आएगा और वह आत्मनिर्भर तथा सशक्त बनकर खेती की ओर ध्यान केंद्रित कर पाएंगे।

एकीकृत बागवानी मिशन योजना के लिए पात्रता मापदंड | Eligibility Criteria for Ekikrit Bagvani Vikas Mission in Hindi

केंद्र सरकार के द्वारा जितनी भी योजनाएं संचालित की जा रही हैं उनका लाभ प्राप्त करने वाले उम्मीदवारों के लिए कुछ योग्यताओं का निर्धारण किया जाता है उसी प्रकार एकीकृत बागवानी मिशन योजना 2024 के लिए भी सरकार ने कुछ पात्रता मापदंड निर्धारित की है जो कुछ इस प्रकार से है-

  • एकीकृत बागवानी मिशन योजना के अंतर्गत लाभ प्राप्त करने के लिए उम्मीदवार किसान का भारत का नागरिक होना जरूरी है।
  • बागवानी खेती करने वाले सभी गरीब किसानों को इस योजना के तहत लाभ प्राप्त करने के लिए पात्र माना जाएगा।
  • लाभ लेने के लिए उम्मीदवार किसान की आयु 18 वर्ष या इससे अधिक होनी अनिवार्य है।
  • केवल खेती करने वाले किसान ही इस योजना के तहत लाभ लेने के लिए योग्य होंगे।

एकीकृत बागवानी मिशन योजना के लिए जरूरी दस्तावेज | Documents Required for Ekikrit Bagvani Vikas Mission Yojana in Hindi

जैसा कि हमने आपको बताया कि आपको एकीकृत बागबानी मिशन योजना के अंतर्गत लाभ प्राप्त करने के लिए इस योजना के तहत आवेदन करना होगा। अगर आप राष्ट्रीय बागवानी मिशन योजना 2024 के तहत लाभ प्राप्त करने के लिए अपना पंजीकरण करना चाहते हैं तो निम्नलिखित दस्तावेजों को अपने साथ अवश्य रखें, जैसे-

  • आवेदक का आधार कार्ड 
  • राशन कार्ड 
  • वोटर आईडी कार्ड 
  • आय प्रमाण पत्र 
  • निवास प्रमाण पत्र 
  • जाति प्रमाण पत्र 
  • जमीन संबंधित खसरा खतौनी 
  • पासपोर्ट साइज फोटोग्राफ 
  • मोबाइल नंबर 
  • ईमेल आईडी

एकीकृत बागवानी विकास मिशन योजना के तहत ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन कैसे करें? | How to Register For Ekikrit Bagvani Vikas Mission Yojana Online 

यदि आप एक किसान हैं और आप एकीकृत बागवानी विकास मिशन योजना 2024 के अंतर्गत पंजीकरण करके भंडारण निर्माण हेतु सब्सिडी के रूप में अनुदान राशि प्राप्त करना चाहते हैं तो इसके लिए आप नीचे बताए गई प्रक्रिया का अनुसरण करके आसानी से अपना पंजीकरण एकीकृत बागवानी विकास मिशन योजना 2024 के लिए कर सकते हैं यह स्टेप्स निम्न प्रकार से है-

  • एकीकृत बागवानी विकास मिशन योजना के अंतर्गत पंजीकरण करने के लिए उम्मीदवार किसान को कृषि और किसान कल्याण विभाग मंत्रालय, भारत सरकार की आधिकारिक वेबसाइट http://midh.gov.in/ पर विजिट करना होगा।
  • आप चाहे तो हमारे द्वारा दिए गए लिंक का उपयोग करके डायरेक्ट कृषि एवं किसान कल्याण विभाग मंत्रालय भारत सरकार की वेबसाइट पर जा सकते हैं।
  • अब आपके सामने Department of Agriculture and Farmers Welfare Ministry की वेबसाइट का मुख्य पेज ओपन हो जाएगा।
एकीकृत बागवानी विकास मिशन 2024  लाभ, पात्रता, उद्देश्य व अप्लाई प्रक्रिया  Ekikrit Bagvani Vikas Mission 2024
  • इसमें आपको मेन मैन्यू में Scheme का एक सेक्शन दिखाई देगा, इस पर क्लिक करके अपने State को सेलेक्ट कर ले।
  • जिसके उपरांत आपकी स्क्रीन पर फार्मर रजिस्ट्रेशन का फॉर्म ओपन हो जाएगा। जिसमें मांग की गई सभी जानकारी ध्यानपूर्वक दर्ज करें।
  • पूछी गई सभी जानकारी दर्ज करने के पश्चात आपको मांगेगा आवश्यक दस्तावेजों को अपलोड करना होगा।
  • इतना सब करने के पश्चात आपको अंत में नीचे की ओर दिए गए सम्मिट के बटन पर क्लिक कर देना है।
  • जैसे ही आप सम्मिट के बटन पर क्लिक करेंगे आपके मोबाइल नंबर पर बेनिफिशियरी रजिस्ट्रेशन नंबर आ जाएगा इसे संभाल कर अपने पास सुरक्षित रखें।

Ekikrit Bagvani Vikas Mission Yojana Related FAQs

एकीकृत बागवानी विकास मिशन योजना क्या है?

एकीकृत बागवानी विकास मिशन योजना को केंद्र सरकार के द्वारा शुरू किया गया है जिसके माध्यम से किसानों को अपने फसलों को संरक्षित रखने हेतु भंडारण निर्माण के लिए आर्थिक सहायता राशि प्रदान की जाएगी।

एकीकृत बागबानी विकास मिशन योजना 2024 को किसके द्वारा शुरू किया गया है?

बागवानी फसलों का उत्पादन करने वाले किसानों की आर्थिक स्थिति सुधारने के लिए कृषि एवं किसान कल्याण विकास मंत्रालय भारत सरकार के द्वारा एकीकृत बागवानी मिशन 2024 को शुरू किया गया है।

एकीकृत बागबानी विकास मिशन योजना को शुरू करने का मुख्य उद्देश्य क्या है?

इस योजना को शुरू करने का प्रमुख उद्देश्य भारत देश में बागवानी फसलों का उत्पादन करने वाले किसानों को आर्थिक सहायता प्रदान करना है ताकि किसान बिना किसी समस्या के कोल्ड हाउस स्टोरेज का निर्माण कराकर अपनी फसलों को सुरक्षित रख सकते है।

इस योजना के माध्यम से लाभार्थी किसानों को कितनी सहायता राशि मिलेगी?

एकीकृत बागवानी विकास मिशन योजना 2024 के माध्यम से लाभार्थी किसानों को केंद्र सरकार के द्वारा 85% और राज्य सरकार के द्वारा 15% अनुदान प्रदान किया जाएगा। यानी कि किसानों को इस योजना के माध्यम से शत प्रतिशत लाभ प्राप्त होगा।

राष्ट्रीय बागवानी विकास मिशन योजना 2024 के लिए आवेदन कैसे करें?

अगर आप एकीकृत बागवानी विकास मिशन योजना 2024 के अंतर्गत लाभ प्राप्त करने के लिए आवेदन करना चाहते हैं तो आपकी सुविधा के लिए इसकी पूरी प्रक्रिया ऊपर बताई गई है।

निष्कर्ष

देश के किसानों की आय में वृद्धि करने के लिए आए दिन राज्य सरकारों एवं केंद्र सरकार के द्वारा विभिन्न प्रकार की योजनाएं चलाई जा रही हैं इस लेख के माध्यम से हमने आप सभी के लिए केंद्र सरकार के द्वारा शुरू की गई एकीकृत बागवानी विकास मिशन 2024 क्या है? | Ekikrit Bagvani Vikas Mission 2024 Kya Hai in Hindi इसके संबंध में पूरी जानकारी विस्तार पूर्वक बताई है।

हम उम्मीद करते हैं कि हमारे द्वारा इस लेख में बताई गई जानकारी आपके लिए उपयोगी साबित रही होगी। अगर अभी भी आप एकीकृत बागवानी विकास मिशन 2024 से संबंधित किसी भी प्रकार की अन्य जानकारी प्राप्त करना चाहते हैं तो आप अपने प्रश्न कमेंट सेक्शन में लिख कर हम से पूछ सकते हैं हम आपके द्वारा पूछे गए सभी प्रश्नों का उत्तर कमेंट के माध्यम से उपलब्ध कराएंगे तब तक हमारी वेबसाइट के साथ बने रहिए।

Leave a Comment