झारखंड प्रवासी मज़दूर घर वापसी योजना ऑनलाइन पंजीकरण कैसे करे?| Jharkhand Migrant Workers Return [Helpline Number]

झारखंड प्रवासी मज़दूर घर वापसी योजना :- देश मे कोरोना वायरस के संक्रमण के कारण झारखंड के मज़दूर जो दूसरे राज्यों में अपने परिवार का पालन पोषण करने के लिए मजदूरी कर रहे थे लेकिन दुनिया भर में फैले इस कोविड – 19 के संक्रमण को भारत में फैलने से रोकने के लिए केंद्र सरकार के द्वारा लगाए  गए लॉकडाउन के कारण झारखंड मज़दूर जो अन्य राज्यों में फंसे हुए है उनके लिए झारखंड सरकार ने झारखंड प्रवासी मज़दूर घर वापसी योजना की शुरुआत की है ताकि झारखंड प्रवासी मज़दूर और बाहर फँसे छात्र अपने राज्यों में लौट सके यकीनन झारखंड सरकार की यह योजना बाहर फँसे मज़दूर और छात्रों के लिए काफी कारगर साबित होने वाली है क्योंकि झारखंड सरकार ने दूसरे राज्यों में फंसे मज़दूरों और के लिए उनके राज्य वापसी के लिए एक ऑनलाइन पोर्टल वेबसाइट लांच की है जिस पर पंजीकरण करके बाहर फँसे छात्र और मज़दूर अपने घर वापसी कर सकेंगे।

झारखंड प्रवासी मज़दूर घर वापसी योजना | Jharkhand Migrant Workers Return

Jharkhand Migrant Workers Return 

सभी जानते है की कोरोना वायरस के बढ़ते संक्रमण को रोकने के लिए केंद्र सरकार ने 22 मार्च से लेकर 17 मई तक देश में चल रही गतिविधियों पर रोक लगा दी है जिसे लॉकडाउन का नाम दिया है गया इस स्थिति लॉकडाउन की स्थिति में लोग जहाँ है वही फँस गए है जिसमे देश के राज्यों के विभिन्न मज़दूर और छात्रों को काफी परेशानी हो हो रही है इसलिए सभी राज्य की सरकार अपने राज्य के फँसे मज़दूरों को वापस लाने के लिए और उन्हें किसी प्रकार की परेशानी ना इसके लिए राज्य सरकार विभिन्न प्रकार की योजनाओं को संचालन कर रही है और अब झारखंड सरकार ने अपने राज्य मज़दूर जो रोज़गार की तलाश की में अन्य राज्यों फँसे हुए है उनको उनके घर वापस लेन के लिए झारखंड प्रवासी मज़दूर घर वापसी योजना की शुरुआत की है. 

जानकारी के लिए बता दे की झारखंड सरकार ने इस योजना के तहत बहार फँसे मज़दूर को उनके घर वापस लाने के लिए http://jharkhandpravasi.in ऑनलाइन पोर्टल वेबसाइट को लांच किया है  जिस पर अन्य राज्यों में फँसे  मज़दूर अपना ऑनलाइन ब्यौरा दर्ज करके अपने राज्य वापस आ सकेंगे। सरकार की तरफ से मिली जानकारी के मुताबिक़ झारखंड सरकार ने तेलंगना और कर्नाटक के लिए 2 ट्रेन मज़दूरों को वापस लेन के लिए रवाना कर दी है साथ ही झारखंड सरकार ने उत्तर प्रदेश, बिहार, छत्तीसगढ़ पश्चिम बंगाल जैसे राज्यों में अपनी 500 बसों को रवाना कर चुकी है ताकि इन राज्यों में फंसे मज़दूर अपने राज्य झारखंड में वापस आ सके | 

झारखंड प्रवासी मज़दूर घर वापसी योजना के लाभ 

झारखंड सरकार ने बहार फँसे अपने मज़दूरों और छात्रों को अपने राज्य वापस लाने के लिए इस योजना की शुरुआत की है इसलिए इस योजना का सीधे बहार फँसे मज़दूरों को लाभ मिलने वाला है इस योजना पोर्टल के माध्यम से मज़दूरों को क्या लाभ मिलेंगे वह निम्लिखित है – 

  • इस योजना के अनुसार बहार दूसरे राज्यों में फंसे मज़दूर और छात्र अपने राज्य वापस आ सकेंगे। 
  •  इस योजना के तहत सरकार अपने राज्य वापस आने वाले मज़दूरों और छात्रों का खाने का भी पूरा ध्यान रखेगी। 
  • इस पोर्टल पर रजिस्ट्रशन करने के बाद आपको अपने राज्य कब वापस आना है और सरकार आपको इसके लिए ट्रैन या बस की व्यवस्था करेगी ये सभी जानकारी आपको आपके मोबाइल नंबर पर मिल जाएगी। 
  • ,कोरोना के संक्रमण से आपको आपके परिवार वालो को सुरक्षित रखने के लिए सरकार आपको 14 दिन तक दिन  क्वारंटीन में रखा जायेगा।

झारखंड प्रवासी मज़दूर घर वापसी के लिए जरूरी दस्तावेज़ 

 इस ऑनलाइन पोर्टल पर अपना पंजीकरण करने के लिए मज़दूरों के पास नीचे कुछ जरूरी दस्तावेज़ होना जरूरी है – 

  • आवेददकर्ता मज़दूर झारखंड निवासी होना चाहिए।
  • मूल निवास प्रमाण पत्र
  • आधार कार्ड नंबर
  • परिवार में सदस्यों की संख्या
  • राज्य के किस जिले में फंसे है उसकी डिटेल।
  • मोबाइल नंबर

झारखंड  प्रवासी यात्रा घर वापसी के लिए मजदूरों के लिए गाइडलाइन

झारखंड के मज़दूरों को अपने राज्य वापस आने के लिए सरकार ने कुछ जरूरी गाइडलाइन को जारी किया है इसलिए  इस पोर्टल पर पंजीकरण करने से पहले आपको सरकार के द्वारा निर्धारित की गयी गाइडलाइन के बारे में अवश्य पढ़ ले –

  • इस पोर्टल पर सबसे पहले मज़दूरों को अपना  रजिस्ट्रशन करना होगा।
  • रजिस्ट्रशन करने के लिए आधार कार्ड होना अनिवार्य है.
  • घर वापस आने पर आपको सरकार के द्वारा निर्धारित की गयी 14 दिन  की अवधि तक क्वारंटीन  में रखा जायेगा।
  • राज्य में आने पर आपका कोरोना टेस्ट कराया जायेगा।

झारखंड प्रवासी मज़दूर घर वापसी योजना ऑनलाइन पंजीकरण कैसे करे? | Jharkhand Migrant Workers Return Registration

 अगर आप झारखंड मज़दूर वर्ग से आते है और रोज़गार पाने के लिए अन्य किसी राज्य में फँस गए है तो आप नीचे झारखंड प्रवासी मज़दूर घर वापसी योजना ऑनलाइन पंजीकरण पोर्टल पर अपना पंजीकरण करके अपने राज्य वापस आ सकते है – 

झारखंड प्रवासी मज़दूर घर वापसी योजना

  • अब यहाँ आपको झारखंड प्रवासी मज़दूर घर वापसी योजना से जुड़ा ऑनलाइन पंजीकरण फॉर्म मिलेगा जहाँ आपको अपनी निजी जानकारी जैसे नाम, आधार कार्ड नंबर, पिता का नाम, जिस राज्य में फंसे है उसका नाम ज़िला और झारखंड के किस ज़िला में जाना चाहते है उसकी पूरी जानकारी आदि जैसी सभी जानकारी भरने के बाद आपको फॉर्म में नीचे दिए गए सबमिट बटन पर क्लीक करके फॉर्म को सबमिट कर देना है. 
  • झारखंड प्रवासी मज़दूर घर वापसी योजना

झारखंड प्रवासी मज़दूर घर वापसी योजना

  • फॉर्म सबमिट करते ही आपका झारखंड प्रवासी मज़दूर घर वापसी योजना में ऑनलाइन पंजीकरण हो जायेगा जिसकी जानकारी आपको आपके नंबर पर मिल जाएगी। 
  • साथ ही आपको अपने राज्य कब वापस आना है और सरकार आपको इसके लिए ट्रैन या बस की व्यवस्था करेगी ये सभी जानकारी आपको आपके मोबाइल नंबर पर मिल जाएगी।

झारखंड प्रवासी मज़दूर घर वापसी योजना हेल्पलाइन नंबर 

 दूसरे राज्यों में फँसे मज़दूरों को अपने राज्य वापस आने में किसी प्रकार की समस्या इसके लिए झारखंड  के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन हेल्पलाइन नंबर भी जारी किये है जिन पर आप अपनी समस्या समाधान पा सकते है – 

झारखंड प्रवासी मजदूर घर वापसी योजना

झारखंड प्रवासी मजदूर घर वापसी योजना

 

झारखंड  राज्य के बहार अन्य राज्यों में फँसे मज़दूरों के लिए सरकार के द्वारा मज़दूरों को अपने राज्य में बुलाने के लिए झारखंड प्रवासी मज़दूर घर वापसी योजना काफी अच्छी योजना है,  इससे आसानी से मज़दूर अपना पंजीकरण करके अपने अपने राज्य में वापसी  कर सकेंगे।

बाकी आज हम आपको अपने इस आर्टिकल की मदद से झारखंड प्रवासी मज़दूर घर वापसी योजना के तहत शुरू किये गए पोर्टल पर आपको ऑनलाइन पंजीकरण करने के लिए आपके पास क्या दस्तावेज़ होना चाहिए  और कैसे रजिस्ट्रशन करना है इसकी विस्तृत जानकारी दे चुके है आशा करता हूँ की आपको आर्टिकल में दी गयी जानकारी उपयोगी साबित हुई होगी।

Spread the love

Leave a Comment