पीएम ट्रांसपेरेंट टैक्सेशन प्लेटफॉर्म क्या है? | PM Transparent Taxation Platform in Hindi

|| पीएम ट्रांसपेरेंट टैक्सेशन प्लेटफॉर्म क्या है? | PM Transparent Taxation Platform in Hindi | पीएम मोदी ट्रांसपेरेंट टैक्सेशन का उद्देश्य | PM Modi’s objective of transparent taxation | Transparent Taxation Platform के अंतर्गत टैक्स प्रणाली को बेहतर बनाने के लिए क्या किया जाएगा? | पीएम मोदी ट्रांसफर इन टैक्सेशन के लाभ | Benefits of PM Transparent Taxation Platform in Hindi ||

भारत सरकार के द्वारा टैक्स जमा करने वाले लोगों को राहत देने के लिए प्रधानमंत्री श्रीमान नरेंद्र मोदी जी के द्वारा 13 अगस्त 2020 को हुई वीडियो कांफ्रेंस के दौरान PM Transparent Taxation Platform को शुरू किया है, जिससे आप Transparent taxation honoring the honest भी कहे सकते है। 13 अगस्त को हुई वीडियो कांफ्रेंस में भारत के वित्त मंत्री निर्माण सीतारमण फाइनेंस तथा कॉरपोरेटर अफेयर मिनिस्टर अनुराग सिंह ठाकुर आदि मौजूद थे।

जिन्हें संबोधित करते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पीएम ट्रांसपेरेंट टैक्सेशन प्लेटफॉर्म को शुरू करने का ऐलान किया है इस प्लेटफार्म के अंतर्गत फेसलेस एसेसमेंट, फेसेलेस अपील तथा ट्रांसपेरेंट चार्टर जैसे बड़े रिफॉर्म्स सम्मिलित किए गए हैं। अगर आप भारत देश के निवासी हैं और आप जानना चाहते है कि PM Transparent Taxation Platform in Hindi और इसके माध्यम से देशवासियों को क्या लाभ मिलेंगे? तो आपको हमारा यह आर्टिकल पूरा ध्यान पूर्वक पढ़ने की आवश्यकता है.

क्योंकि यहां हम प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी के द्वारा शुरू किए गए पीएम ट्रांसपेरेंट टैक्सेशन प्लेटफॉर्म 2024 से जुड़ी हर एक जानकारी विस्तार पूर्वक साझा करने वाले हैं तो आइए शुरू करते है-

Contents show

पीएम ट्रांसपेरेंट टैक्सेशन प्लेटफॉर्म क्या है? | PM Transparent Taxation Platform in Hindi

जैसा कि हमने आपको बताया कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी के द्वारा 13 अगस्त को हुई वीडियो कांफ्रेंस के दौरान कैबिनेट मंत्रियों के समक्ष पीएम ट्रांसपेरेंट टैक्सेशन प्लेटफॉर्म को शुरू करने का प्रस्ताव रखा था जिसे भारत सरकार के द्वारा 25 सितंबर यानी पंडित दीनदयाल उपाध्याय के जन्म दिवस पर पूरे देश में लागू कर दिया गया है। आपकी जानकारी के लिए बता दें कि वर्तमान समय में भारत में इनकम टैक्स रिटर्न भरने वाले लोगों की संख्या 1.5 करोड़ से भी अधिक है।

पीएम ट्रांसपेरेंट टैक्सेशन प्लेटफॉर्म क्या है PM Transparent Taxation Platform in Hindi

लेकिन अधिकांश लोग आयकर विभाग के द्वारा की जाने वाली पूछताछ के दर से टैक्स का भुगतान नहीं करते हैं इसी समस्या को ध्यान में रखते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी ट्रांसपेरेंट टैक्सेशन प्लेटफार्म लेकर आए हैं इस प्लेटफार्म के अंतर्गत अब टैक्स भरने वाले लोगों को आयकर विभाग की ओर से किसी भी प्रकार की पूछताछ या फिर क्वेरी से डरने की आवश्यकता नहीं है अर्थात अब आयकर विभाग टैक्स पेयर की डिग्निटी का पूरा ख्याल रखेगी और बिना किसी आधार के टैक्स भरने वाले लोगों पर शक के आधार पर कोई भी कार्रवाई नहीं की जाएगी। 

जिसे भारत देश के आयकर प्रणाली आसान बनेगी और आम नागरिक बिना किसी परेशानी के टैक्स का भुगतान करने में सक्षम बना सकेंगे. यदि Transparent Taxation Platform से संबंधित और अधिक जानकारी प्राप्त करना चाहते हैं तो आप बस हमारे इस लेख का ध्यान पूर्वक अंतिम तक अवलोकन कीजिए।

पीएम मोदी ट्रांसपेरेंट टैक्सेशन का उद्देश्य | PM Modi’s objective of transparent taxation

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी के द्वारा पंडित दीनदयाल उपाध्याय के जन्मदिवस के शुभ अवसर पर पीएम मोदी ट्रांसपेरेंट टैक्सेशन प्लेटफॉर्म को शुरू किया गया है इस कार्यक्रम को प्रारंभ करने का प्रमुख उद्देश्य उन सभी आयकर दाताओं को संबोधित करना है जो पूरी ईमानदारी के साथ आयकर विभाग में टैक्स का भुगतान करते है।

Transparent Taxation Platform के माध्यम से अब बिना किसी ठोस सबूत के आयकर भरने वाले व्यक्ति पर शक नहीं किया जाएगा जिससे टैक्स प्रणाली को आसान बनाने में मदद मिलेगी और अधिक से अधिक लोग टैक्स भरने के लिए प्रेरित होंगे जिससे भारत देश का विकास होगा और देशवासियों को बेहतर सुविधा प्रदान करने में मदद मिलेगी।

पीएम मोदी ट्रांसपेरेंट टैक्सेशन कार्य प्रणाली

पीएम ट्रांसपेरेंट टैक्सेशन प्लेटफॉर्म क्या है PM Transparent Taxation Platform in Hindi

भारत देश के आर्थिक विकास में आयकर भरने वाले लोगों का बहुत ही महत्वपूर्ण योगदान रहता है लेकिन टैक्स भरने वाले लोगों को सब के आधार पर बार-बार परेशानियों का सामना करना पड़ता है इसी समस्या के समाधान के लिए पीएम मोदी ट्रांसपेरेंट टैक्सेशन को शुरू किया गया है जिसके द्वारा टैक्स प्रणाली को सीमलेस, पैनलेस तथा फेसलैस को आसान और सुविधाजनक बनाने का प्रयास किया जाएगा ताकि भारतीय टैक्स प्रणाली को सिंपल बनाया जा सके। 

इस प्लेटफार्म को लॉन्च करने के दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी ने बताया कि हमारा भारत देश पूरी दुनिया के उन देशों की लिस्ट में आता है जहां सबसे कम कॉरपोरेट टैक्स की वसूली की जाती है लेकिन अब ऐसा नहीं होगा क्योंकि PM Transparent Taxation Platform के माध्यम से टैक्स चोरी करने वाले लोगों पर शिकंजा कसने की तैयारी की जा रही है।

टैक्स प्रणाली सीमलेस पेनलेस तथा फेसलेस बनाया जाएगा आसान 

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी के द्वारा PM Transparent Taxation Platform को शुरू करने के दौरान कहां गया है कि टैक्स प्रणाली के सीमलेस, पैनलैस तथा फेसेलैस बनने का बनाने का प्रयास किया जाएगा खाने का तात्पर्य यह है कि अब आयकर विभाग के द्वारा टेक्स्ट पेअर की उलझन को कोर्ट में सुलझाने की बजाय कोर्ट के बाहर सुलझाने का जोर दिया जाएगा और टैक्स का भुगतान करने वाले लोगों के लिए टैक्स प्रणाली को आसान बनाने के लिए टेक्नोलॉजी भी प्रदान की जाएगी।

सरकार का दखल होगा कम

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने देशवासियों को संबोधित करते हुए कहा है कि एक दौर था जब केवल सुधार करने की बात की जाती थी लेकिन किन्ही कारण बस सरकार के द्वारा की जाने वाली पल में सुधार नहीं हो पाए थे। किंतु पीएम मोदी ट्रांसपेरेंट टैक्सेशन के अंतर्गत इस बात को पूरी तरह से बदला जाएगा और नई व्यवस्था शुरू की जाएगी। इन नई व्यवस्थाओं में देशवासियों के जीवन में सरकार का दखल काम किया जाएगा ताकि देशवासी बिना किसी डर के अपने दायित्वों की पूर्ति करके देश के विकास में सहयोग करने के लिए आगे बढ़ सकें।

सीबीडीटी के द्वारा किए जाने वाले बदलाव

जैसा कि आप सभी जानते हैं कि पिछले वर्ष केंद्रीय प्रत्यक्ष कर बोर्ड के द्वारा कई प्रकार के बड़े बदलाव किए गए थे जिसमें 5 लाख तक की इनकम वाले लोगों को टैक्स पर हंड्रेड प्रतिशत छूट प्रदान की गई थी। भारतीय टैक्स प्रणाली में पारदर्शिता लाने के लिए सीबीडीटी के द्वारा निरंतर टैक्स के नियमों में बदलाव किए जा रहे हैं ताकि आम नागरिकों को बेहतर और आसान टैक्स प्रणाली प्रदान की जा सके।

पीएम मोदी ट्रांसफर इन टैक्सेशन के लाभ | Benefits of PM Transparent Taxation Platform in Hindi

प्रधानमंत्री द्वारा देश के आयकरदाताओं को आसान और सरल टैक्स प्रणाली प्रदान करने के लिए पीएम मोदी ट्रांसफर इन टैक्सेशन को पूरे देश में लागू कर दिया गया है जिसके शुरू होने से देशवासियों को निम्नलिखित लाभ प्राप्त होंगे जैसे की –

  • प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी के द्वारा Transparent Taxation Platform को 13 अगस्त को शुरू किया गया है।
  • इस प्लेटफार्म के द्वारा फेसलेस एसेसमेंट, फेसलेस अपील तथा ट्रांसपेरेंट चार्टर आदि रिफॉर्म किए जाएंगे।
  • जिससे भारत में मौजूद टैक्स प्रणाली को सरल और आसान बनाने का प्रयास किया जाएगा।
  • पीएम ट्रांसफर इन टैक्सेशन के माध्यम से सीमलेस पेनलैस तथा फैसेलेस बनाया जाएगा।
  • इस प्लेटफार्म के माध्यम से टैक्स के दरों में कमी देखने को मिलेगी और आयकर रिटर्न भरने वाले लोगों को भी कई लाभ मिलेंगे।
  • इसके द्वारा आयकर दाताओं की उलझनों का निपटारा कोर्ट के बाहर करने का प्रयास करने पर जोर दिया जाएगा।
  • आयकर रिटर्न पर निगरानी रखने के लिए सरकार आम नागरिकों के बीच इलेक्ट्रॉनिक माध्यमों को बढ़ावा देगी।
  • इतना ही नहीं इस प्लेटफार्म के अंतर्गत टैक्स रिटर्न भरने की डेट में भी बढ़ोतरी की गई है।
  • इस प्लेटफार्म के माध्यम से टैक्स प्रणाली आसान बनेगी और टैक्स भरने वाले लोगों को अधिक परेशानियों का सामना नहीं करना पड़ेगा।
  • जिससे अधिक से अधिक लोग टैक्स भरने के लिए प्रेरित होंगे और हमारा भारत देश उन्नति करेगा।

PM Transparent Taxation Platform Related FAQs

PM Transparent Taxation Platform क्या है?

यह केंद्र सरकार के द्वारा टैक्स प्रणाली को आसान बनाने और देश में हो रही टैक्स चोरी को रोकने के उठाया गया एक अहम कदम है जिसके माध्यम से केंद्र सरकार टैक्स प्रणाली को बेहतर बनाने का प्रयास कर रही है।

पीएम मोदी ट्रांसफर इन टैक्सेशन को किसके द्वारा शुरू किया गया है?

पीएम मोदी ट्रांसफर इन टैक्सेशन को भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी के द्वारा 13 अगस्त 2020 को हुई वीडियो कांफ्रेंस के दौरान शुरू करने की घोषणा की गई थी जिसे 25 अगस्त को देश में लागू किया गया है।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ वीडियो कांफ्रेंस में कौन-कौन था?

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी के साथ वीडियो कांफ्रेंस में हमारे देश की वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण, आयकर विभाग के अधिकारी एवं पदाधिकारी, विभिन्न वाणिज्य मंडलों, व्यापार संघ एवं चार्टर्ड अकाउंटेंट्स संघो के जाने-माने करदाता प्रस्तुत थे।

Transparent Taxation Platform के अंतर्गत टैक्स प्रणाली को बेहतर बनाने के लिए क्या किया जाएगा?

इस प्लेटफार्म के अंतर्गत टैक्स प्रणाली को बेहतर बनाने के लिए फेसलेस एसेसमेंट, फेसेलेस अपील तथा ट्रांसपेरेंट चार्टर जैसे बड़े रिफॉर्म्स सम्मिलित किए गए हैं।

निष्कर्ष 

आज हमने अपनी वेबसाइट के इस आर्टिकल के द्वारा पीएम ट्रांसपेरेंट टैक्सेशन प्लेटफॉर्म क्या है? | PM Transparent Taxation Platform in Hindi के संबंध में बताया है। आशा करते है कि आपको हमारा आज के इस ब्लॉग पोस्ट में बताई गई जानकारी पसंद आई होगी।

अगर आपको हमारे द्वारा इस आर्टिकल में बताई गई जानकारी पसंद आई हो तो कृपया करके इस लेख को अपने सभी दोस्तों और जान पहचान के लोगों के साथ शेयर करें और अगर आप PM Transparent Taxation Platform से संबंधित कोई अन्य जानकारी प्राप्त करना चाहते हैं या फिर आप इसके संबंध में कोई सुझाव हमारे साथ साझा करना चाहते हैं तो नीचे दिए गए कमेंट सेक्शन में लिखकर हमें जरूर बताएं।

Leave a Comment