राजस्थान मुख्यमंत्री निशुल्क दवा योजना | रजिस्ट्रेशन | Nishulk Dava Yojana

Mukhyamantri Nishulk Dava Yojana 2022 :- मनुष्य के लिए सबसे ज्यादा जरूरी होता है कि वह स्वस्थ्य रहे है। और अच्छा जीवन यापन करें। लेकिन भारत भर में ऐसे काफ़ी परिवार, नागरिक है जो अस्वस्थ्य होने पर आर्थिक स्थिति खराब होने के कारण अपना इलाज नही करा पाते है। जिस कारण उनकी बीमारी बढ़ती जाती है और एक समय बेहतर इलाज न मिल पाने के कारण उनकी मृत्यु हो जाती है।

हालांकि बिना इलाज के किसी भी व्यक्ति की मृत्यु न होने इसके भारत सरकार पीएम आयुष्मान कार्ड योजना जैसी बड़ी योजना का संचालन कर रही है। पीएम आयुष्मान कार्ड योजना के बारे में आप यहां क्लिक करके पूरी जानकारी पढ़ सकती है। इसी योजना की तरह राजस्थान सरकार ने भी अपने राज्य के गरीब परिवारों के लिए मुख्यमंत्री निशुल्क दवा योजना की शुरुआत की है।

जिसके बारे के आज हम आपको बताने जा रहे है। आज हम आपको अपने इस आर्टिकल में Mukhyamantri Nishulk Dava Yojana Registration पात्रता, दस्तावेज आदि से जुड़ी सभी जानकारी के बारे में जानेंगे। तो आइए जानते हैं –

Contents

मुख्यमंत्री निशुल्क दवा योजना क्या है? | Mukhyamantri Nishulk Dava Yojana

Mukhyamantri Nishulk Dava Yojana

राजस्थान राज्य में ऐसी कई घटनाएं सामने आयी कि लोगों अच्छा इलाज मिल पाने के कारण वह मृत्यु को शिकार हो गए। इसी बात को संज्ञान में रखते हुए राजस्थान सरकार के द्वारा राजस्थान के चिकित्सा स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण विभाग की मदद से मुख्यमंत्री निशुल्क दवा योजना को शुरू किया गया है।

इस योजना के अंतर्गत प्रदेश सरकार राज्य के सभी चिकित्सा संस्थान में दवाई का वितरण कुशलपूर्वक हो सके इसके लिए जिला मुख्यालय पर 40 से भी औषधि भंडार ग्रह स्थापित किए गए है। जिनके माध्यम से सभी संस्थानों तक दवाई का वितरण किया जाएगा।

Mukhyamantri Nishulk Dava Yojana 2022 के अंतर्गत स्वास्थ्य संस्थान पर 713 प्रकार की दवाइयां, 181 सर्जिकल एवं 77 सूचर्स को सम्मिलित किया गया है। लगभग 971 औषधियां उपलब्ध रहेंगी। दवाई का वितरण 24 घंठे उपलब्ध रहेगा। ताकि रोगियों को किसी तरह की कोई परेशानी न हो।

योजना का नाममुख्यमंत्री निशुल्क दवा योजना
राज्य राजस्थान
साल 2022
लाभार्थीराज्य के गरीब नागरिक
उद्देश्यगरीब नागरिकों को निशुल्क दवा उपलब्ध कराना
विभागचिकित्सा स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण विभाग

मुख्यमंत्री निशुल्क दवा योजना का उद्देश्य

राजस्थान में कई ऐसे गरीब परिवार निवास करते हैं जो आर्थिक रूप से गरीब होने के कारण अपने स्वास्थ्य पर विशेष ध्यान नहीं दे पाते हैं। और अस्वस्थ्य होने पर महंगी दवाई, टेस्ट के कारण इलाज नही करा पाते है। जिसे ध्यान में रखते हुए राजस्थान सरकार ने चिकित्सा स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण विभाग की मदद से राजस्थान मुख्यमंत्री निशुल्क दवा योजना को शुरू किया है। जिसका मुख्य उद्देश्य राज्य के गरीब नागरिकों को फ्री दवाई उपलब्ध कराना है।

राजस्थान मुख्यमंत्री निशुल्क दवा योजना की विशेषताएँ?

इस योजना की क्या विशेषताएँ है और इए योजना से मिलने वाले लाभ क्या है। वह कुछ इस प्रकार है –

गरीबो को निशुल्क दवाई

राज्य में ऐसे काफ़ी गरीब लोग निवास करते है जो अस्वस्थ होने पर इलाज कराने में सक्षम नही है। वही इस बढ़ती महंगाई में दवाई लेने, टेस्ट कराना थोड़ा मुश्किल होता है। ऐसे में गरीबो नागरिकों के लिए राजस्थान मुख्यमंत्री निशुल्क दवा योजना के अंतर्गत काफी राहत मिलेगी।

अस्पतालों में फ्री इलाज

राजस्थान के किसी भी सरकारी अस्पताल में राजस्थान मुख्यमंत्री निशुल्क दवा योजना के अंतर्गत फ्री इलाज कराने की सुविधा। साथ बीमारी से जुड़े सभी टेस्ट, दवाई आदि निशुल्क दी जाएंगी।

सरकारी अस्पतालों के साथ – साथ प्राइवेट अस्पतालों में फ्री दवाई

राजस्थान सरकार ने इस योजना के अंतर्गत सरकारी अस्पतालों के साथ – साथ मेडिकल कॉलेज अस्पतालों, जिला अस्पतालों, सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्रों, प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्रों आदि को भी इसमें शामिल किया है। जहाँ फ्री दवाई का वितरण किया जाएगा।

जांच और दवाई में वृद्धि

बढ़ती बीमारियों को देखते हुए प्रदेश सरकार ने इस योजना के अंतर्गत दी जाने वाली दवाई और टेस्ट में बढ़ोतरी की है। अब इस योजना के अंतर्गत 90 प्रकार के जाँच और 712 किस्म की दवा उपलब्ध होगी। जिसे लोगों को काफी फायदा होगा।

सर्वाधिक उपयोग के आने वाली दवाइयाँ मुफ्त

सरकार की तरफ से मुख्यमंत्री निशुल्क दवा योजना के अंतर्गत सबसे ज्यादा उपयोग मे आने वाली दवाइयों को मुफ्त में उपलब्ध कराया जाएगा। मुफ्त दवाइयों की बात करे तो इस योजना के अंतर्गत रोगियों को जैनेरिक औषधियां, सर्जिकल डायग्नोस्टिक आदि को शामिल किया गया है। इसके साथ ही राज्य के सभी चिकित्सा संस्थानों में थैलेसीमिया और हिमोफिलिया के मरीजों के लिए सभी उपयोगी निशुल्क दवाई उपलब्ध कराई जाएगी।

मुख्यमंत्री निशुल्क दवा योजना 2022 के लिए पात्रता और जरूरी दस्तावेज

इस योजना का लाभ कुछ पात्रताओं और दस्तावेज़ो के आधार पर दिया जाएगा। जो कि निम्लिखित है –

  • लाभार्थी राजस्थान का नागरिक होना चाहिए।
  • लाभार्थी अंतरंग एवं बहिरंग रोगियों में शामिल होना चाहिए।
  • आवेदक का आधार कार्ड
  • निवास प्रमाण पत्र
  • आयु प्रमाण पत्र
  • आय प्रमाण पत्र
  • शुल्क की रसीद

राजस्थान मुख्यमंत्री निशुल्क दवा योजना में आवेदन कैसे करें?

इस योजना में आवेदन करने के लिए कोई विशेष वेबसाइट या तरीका उपलब्ध नही है। बस आप जिस अस्पताल में अपना इलाज कराने जा रहे है। वहां पर आपको राजस्थान मुख्यमंत्री निशुल्क दवा योजना से जुड़ा आवेदन पत्र जिसे आप अस्पताल से प्राप्त कर सकेंगे। उसे भरकर आपको अस्पताल में जमा करना होगा।

आवेदन फॉर्म जमा करने के बाद उसका सत्यापन किया जाएगा। और अगर आप Mukhyamantri Nishulk Dava Yojana 2022 के पात्र होते है। तभी आपको फ्री इलाज की सुविधा उपलब्ध कराई जाएगी।

राजस्थान मुख्यमंत्री निशुल्क दवा योजना से जुड़े प्रश्न उत्तर

मुख्यमंत्री निशुल्क दवा योजना की शुरुआत कब हुई?

राजस्थान मुख्यमंत्री निशुल्क दवा योजना की शुरुआत 2 अक्टूबर 2011 में राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत जी के द्वारा की गई थी।

राजस्थान मुख्यमंत्री निशुल्क दवा योजना का लाभ कैसे मिलेगा?

इस योजना का लाभ राजस्थान के सभी उन गरीब परिवार के नागरिक को मिलेगा जो आर्थिक रूप से गरीब होने के कारण अपने स्वास्थ्य पर ध्यान नहीं दे पाते है।

राजस्थान मुख्यमंत्री निशुल्क दवा योजना का लाभ लेने के लिए कोई भुगतान करना होगा?

जी नहीं, राजस्थान मुख्यमंत्री निशुल्क दवा योजना सरकार की तरफ से निशुल्क शुरू की गई है। इस योजना का लाभ लेने के लिए किसी तरह का कोई भुगतान करना नहीं होगा।

राजस्थान मुख्यमंत्री निशुल्क दवा योजना में पंजीकरण कैसे करें?

इस योजना का लाभ लेने के लिए आपको अस्पताल में जाकर आवेदन पत्र भरना होगा।

निष्कर्ष

तो दोस्तों इस तरह से आप राजस्थान मुख्यमंत्री निशुल्क दवा योजना में आवेदन पत्र भरकर अपना मुफ्त इलाज करा सकते है।बाकी अगर आपको किसी तरह की परेशानी आ रही है या योजना से जुड़ी कोई विशेष जानकारी के बारे में जानना है। तो कमेंट करके पूछ सकते है।

Spread the love

अपना सवाल यहाँ पूछें। कमेंट में अपना मोबाइल नंबर, आधार नंबर और अकाउंट नंबर जैसी पर्सनल जानकारी न शेयर करें।