मुख्यमंत्री समेकित चौर विकास योजना 2023 क्या है? | पात्रता, लाभ व आवेदन प्रक्रिया | Mukhyamantri Samekit Chaur Vikas Yojana 2023

|| मुख्यमंत्री समेकित चौर विकास योजना 2023 क्या है? | Mukhyamantri Samekit Chaur Vikas Yojana 2023 Kya Hai in Hindi | Objective of Mukhyamantri Sameekit Chaur Vikas Yojana | मुख्यमंत्री समेकित चौर विकास योजना 2023 के अंतर्गत ऑनलाइन आवेदन कैसे करें? | How To Apply For Mukhyamantri Samekit Chaur Vikas Yojana 2023 Online ||

बिहार सरकार के द्वारा ग्रामीण क्षेत्रों के विकास हेतु कई प्रकार की अलग-अलग योजनाओं का संचालन किया जा रहा है। अभी कुछ समय पहले ही बिहार राज्य के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार जी ने गांव की बेकार या बंजर जमीन पर तालाब बनाने के लिए Mukhyamantri Samekit Chaur Vikas Yojana 2023 को आरंभ किया है। इस योजना के द्वारा सरकार राज्य के ग्रामीण इलाकों में स्थित बेकार अथवा बंजर जमीन पर नवीन तालाब निर्मित किए जायेंगे।

ताकि राज्य के चौर क्षेत्र के इलाकों को समेकित विकास और मत्स्य पालन को बढ़ावा दिया जा सके। इस योजना के माध्यम से बड़े पैमाने पर मत्स्य पालन के साथ-साथ कृषि, बागवानी व कृषि वानिकी को विकसित किया जाएगा। बिहार राज्य सरकार के द्वारा इस योजना के अंतर्गत राज्य के सीवान सहित अन्य छह जिलों के किसान को प्राप्त होगा। इसके अलावा बिहार राज्य के बेरोजगार युवाओं को प्रत्यक्ष व अप्रत्यक्ष रूप से रोजगार भी प्राप्त होगा। साथ ही साथ सरकार लाभार्थियों को 50 प्रतिशत अनुदान की राशि भी प्रदान करेंगी।

अगर आप पशु एवं मत्स्य संसाधन विभाग, बिहार के द्वारा शुरू की गई मुख्यमंत्री समेकित चौर विकास योजना 2023 क्या है? इसके उद्देश्य, लाभ, पात्रता आदि से संबंधित सभी जानकारी प्राप्त करना चाहते है तो यह आर्टिकल आपके लिए ही है। हमने इस पोस्ट में Bihar Samekit Chaur Vikas Yojana 2023 से संबंधित सभी महत्वपूर्ण जानकारी साझा की है।

Contents show

मुख्यमंत्री समेकित चौर विकास योजना 2023 क्या है? | Mukhyamantri Samekit Chaur Vikas Yojana 2023 Kya Hai in Hindi

बिहार राज्य के पशु एवं मत्स्य संसाधन विभाग के द्वारा मुख्यमंत्री समेकित चौर विकास योजना 2023 को शुरू किया गया है. Mukhyamantri Samekit Chaur Vikas Yojana 2023 के माध्यम से सुबह के चौर अधिकता वाले जिलों में मत्स्य पालन को बढ़ावा देने के लिए सरकार के द्वारा बंजर एवं बेकार जमीन पर 50 हेक्टर को भूमि पर नए तालाबों का निर्माण कराने के लिए अनुदान राशि प्रदान करेगी, जिसके लिए बिहार सरकार के द्वारा 2.48 करोड़ रुपए का बजट निर्धारित किया गया है।

मुख्यमंत्री समेकित चौर विकास योजना 2023 क्या है पात्रता, लाभ व आवेदन प्रक्रिया Mukhyamantri Samekit Chaur Vikas Yojana 2023

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि Samekit Chaur Vikas Yojana Bihar के अंतर्गत न्यूनतम 0.2 हेक्टेयर तथा अधिकतम 2 हेक्टेयर जमीन पर एक व्यक्ति को तथा 20 हेक्टेयर रकबा में न्यूनतम 5 सदस्य होने पर योजना का लाभ मिलेगा। बिहार राज्य के जो भी इच्छुक किसान लाभ प्राप्त करना चाहते है, उन्हें इस योजना के लिए ऑनलाइन पंजीकरण करना होगा।

अगर आपको मुख्यमंत्री समेकित चौर विकास योजना 2023 के अंतर्गत आवेदन करने की प्रक्रिया के बारे में जानकारी नहीं है तो आप परेशान ना हो इस पोस्ट में हमने इसकी आवेदन प्रक्रिया के बारे में सरल भाषा में पूरी जानकारी प्रदान की है।

योजना का नाम मुख्यमंत्री समेकित चौर विकास योजना
राज्य बिहार
साल 2023
लाभार्थी बिहार नागरिक
उद्देश्य मछली पालन को बढ़ावा देने के लिए निजी चौर जल क्षेत्रों में तालाब निर्माण हेतु अनुदान प्रदान करना।
अनुदान राशि 70% तक
ऑनलाइन प्रक्रिया ऑनलाइन
ऑफिसियल वेबसाइट http://fisheries.bihar.gov.in/

परंपरागत मछुआरों को मिलेगी प्राथमिकता

इस योजना के अंतर्गत बिहार राज्य में परंपरागत तरीके से मछली पालन करने वाले मछुआरों को प्राथमिकता प्रदान की जाएगी, जिसे निजी क्षेत्र में चौर का समेकित विकास होगा। Mukhyamantri Samekit Chaur Vikas Yojana के अंतर्गत राज्य में तालाबों का निर्माण करने एवं मत्स्य पालन को बढ़ावा देने के लिए 3 मॉडल तैयार किए गए है.

इन सभी मॉडल के अनुसार ही बिहार राज्य में तालाबों का निर्माण कराया जाएगा जिनकी गहराई और ऊंचाई इस मॉडल के अनुसार ही रखी जाएंगी. Samekit Chaur Vikas Yojana के अंतर्गत जो भी लाभार्थी तालाब का निर्माण कराएंगे उन्हें आने वाले 2 वर्षो तक मत्स्य इनपुट की अन्य योजनाओं से प्राथमिकता के आधार पर अनुदान प्रदान किया जाएगा।

30 लाभार्थी किसानों को दिया जाएगा मत्स्य पालन प्रशिक्षण

इस योजना के अंतर्गत सरकार बंजर एवं बेकार जमीन पर तालाब निर्माण करने के लिए उम्मीदवारों को अनुदान राशि प्रदान करेगी साथ ही साथ सहकारी प्रशिक्षण संस्थान पटना में किसानों को मत्स्य पालन के नवीन तकनीक के संबंध में जानकारी प्रदान करने हेतु प्रशिक्षण भी प्रदान किया जाएगा।

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि जिला मत्स्य कार्यालय के द्वारा Bihar Samekit Chaur Vikas Yojana के अंतर्गत केवल 30 किसानों को ही मत्स्य पालन की नवीन तकनीक के संबंध में 6 दिनों के लिए प्रशिक्षण प्रदान किया जाएगा। यह योजना बिहार राज्य में मत्स्य पालन को बढ़ावा देने और चौर अधिकता वाले जिलों का विकास करने हेतु काफी फायदेमंद साबित होगी।

बिहार राज्य में होगा रोजगार का सृजन

मुख्यमंत्री समेकित चौर विकास योजना 2023 के अंतर्गत नए तालाबों का निर्माण कराकर सरकार लोगों को इनमें मत्स्य पालन के लिए प्रोत्साहित करेगी जिससे राज्य में बड़े पैमाने पर रोजगार पैदा होंगे। मत्स्य पालन को और अधिक पढ़ाने के लिए सरकार लाभार्थियों को दूसरे प्रांत से आने वाली मछलियों की नस्लों को कम दामों पर खरीदने के लिए भी अनुदान राशि प्रदान करेगी।

Mukhyamantri Samekit Chaur Vikas Yojana के अंतर्गत बिहार सरकार लाभार्थियों को मत्स्य पालन, कृषि, कृषि बागवानी इत्यादि के लिए भी अलग-अलग अनुदान राशि डीवीटी के माध्यम से बैंक अकाउंट में प्रदान करेगी। Bihar Integrated Chour development Scheme राज्य में रोजगार के साथ-साथ जल संयंत्र के लिए भी काफी महत्वपूर्ण सिद्ध होगी।

मुख्यमंत्री समेकित चौर विकास योजना का उद्देश्य | Objective of Mukhyamantri Sameekit Chaur Vikas Yojana

बिहार राज्य के पशु एवं मत्स्य पालन विभाग के द्वारा शुरू की गई इस कल्याणकारी योजना का मुख्य उद्देश्य राज्य की बंजर जमीन का उपयोग करके नवीन तालाब का निर्माण करना है ताकि राज्य के किसानों कुछ खेती हेतु पर्याप्त मात्रा में पानी एवं बेरोजगारों को प्रत्यक्ष या अप्रत्यक्ष रूप से रोजगार उपलब्ध कराए जा सके। Mukhyamantri Samekit Chaur Vikas Yojana के माध्यम से सरकार 50 सेक्टर की भूमि पर नए तालाबों का निर्माण कराएगी ताकि राज्य के बेरोजगार नागरिक एवं किसान इन तालाबों में मत्स्य पालन करके कमाई कर सकें। यही योजना राज्य में बढ़ रही बेरोजगारी को नियंत्रित करने एवं जल समस्या को दूर करने के लिए काफी अहम भूमिका निभाएगी।

मुख्यमंत्री समेकित चौर विकास योजना के लाभ | Benefits of Mukhyamantri Samekit Chaur Vikas Yojana

बिहार राज्य सरकार के द्वारा आयोजित की गई Mukhyamantri Samekit Chaur Vikas Yojana राज्य के किसानों और बेरोजगार नागरिक के लिए काफी फायदेमंद होगी इसके अंतर्गत उन्हें कई लाभ प्राप्त होंगे, जैसे-

  • Mukhyamantri Samekit Chaur Vikas Yojana के तहत सूबे के चौर अधिकता वाले जिले में मत्स्य पालन को बढ़ावा देने के लिए तालाब निर्माण कराया जाएगा।
  • इस योजना के अंतर्गत तालाब निर्माण हेतु राज्य सरकार के द्वारा लाभार्थियों को 50% अनुदान राशि प्रदान की जाएगी।
  • समेकित चौर विकास योजना योजना के अंतर्गत 50 हेक्टर में नए तालाबों का निर्माण कराया जाएगा।
  • पशु एवं मत्स्य पालन विभाग बिहार के द्वारा एक हेक्टर में 2 तालाब बनाने एवं भूमि विकास की योजना को तैयार किया जाएगा।
  • Samekit Chaur Vikas Yojana 2023 के अंतर्गत लाभार्थी किसानों को 6 दिन के लिए मत्स्य पालन प्रशिक्षण भी प्रदान किया जाएगा।
  • जिसके दौरान किसानों को मत्स्य पालन से संबंधित नई तकनीकों के बारे में पूरी जानकारी प्रदान की जाएगी।
  • इस योजना के अंतर्गत किसान प्रशिक्षण प्राप्त करने के पश्चात तालाबों में आधुनिक तरीके से मत्स्य पालन कर सकेंगे।
  • मुख्यमंत्री समेकित चौर विकास योजना का लाभ लेने के लिए लाभार्थियों को किसी भी सरकारी दफ्तर में चक्कर नहीं लगाने होंगे बल्कि वह इस योजना के लिए ऑनलाइन आवेदन कर सकेंगे.
  • यह योजना राज्य के किसानों की आय में वृद्धि करने एवं बेरोजगारों को रोजगार के अवसर प्रदान करने के लिए काफी लाभकारी सिद्ध होगी।

हरियाणा समेकित चौर विकास योजना के लिए पात्रता मापदंड | Eligibility Criteria For Haryana Samekit Chaur Vikas Yojana in Hindi

बिहार राज्य सरकार के द्वारा जितनी भी सरकारी योजनाएं चलाई जाती हैं उन योजनाओं का लाभ लेने वाले लाभार्थियों के लिए किसी न किसी प्रकार की पात्रता मापदंड को निर्धारित अवश्य किया जाता है। बिहार समेकित चौर विकास योजना के लिए भी सरकार ने कुछ योग्यताएं निर्धारित की है, जो सूचीबद्ध रूप में नीचे बताई गई है-

  • आवेदन करने वाला आवेदन मूल रूप से बिहार राज्य का निवासी होना चाहिए।
  • केवल बिहार राज्य में निवास करने वाले किसान ही इस योजना का लाभ प्राप्त करने के लिए योग्य बनाए गए है।
  • Mukhyamantri Samekit Chaur Vikas Yojana के तहत लाभ लेने हेतु अनुसूचित जाति, अनुसूचित जनजाति, अत्यंत पिछड़ा वर्ग के लोग पात्र होंगे।
  • इसके अलावा बिहार राज्य में परंपरागत तरीके से मत्स्य पालन करने वाले मछुआरे भी इस योजना का लाभ प्राप्त कर सकेंगे।

मुख्यमंत्री समेकित चौर विकास योजना के लिए जरूरी दस्तावेज | Documents Required for Mukhyamantri Samekit Chaur Vikas Yojana

Mukhyamantri Samekit Chaur Vikas Yojana के तहत सरकार के द्वारा ऑनलाइन प्रक्रिया का निर्धारण किया गया है, जिसके द्वारा आपको कुछ जरूरी दस्तावेजों को भी अपलोड करना होगा. आपकी सुविधा के लिए हमने इस योजना के लिए सभी जरूरी दस्तावेजों की लिस्ट नीचे उपलब्ध कराई है, जो इस प्रकार से है-

  • आवेदन कर्ता का निवास प्रमाण पत्र
  • आय प्रमाण पत्र
  • जाति प्रमाण पत्र
  • समूह में कार्य करने का सहमति प्रमाण पत्र
  • भू स्वामित्व प्रमाण पत्र
  • भूमि से संबंधित सभी जरूरी दस्तावेज
  • पिछले 3 वर्षों का अंकेक्षण
  • आयकर रिटर्न का विवरण
  • पासपोर्ट साइज फोटो
  • मोबाइल नंबर
  • ईमेल आईडी

मुख्यमंत्री समेकित चौर विकास योजना 2023 के अंतर्गत ऑनलाइन आवेदन कैसे करें? | How To Apply For Mukhyamantri Samekit Chaur Vikas Yojana 2023 Online

बिहार समेकित चौर विकास योजना 2023 के अंतर्गत ऑनलाइन आवेदन करना करना बहुत ही आसान है। आप नीचे उपलब्ध सभी स्टेप्स को ध्यानपूर्वक फॉलो करके आसानी से इस योजना के अंतर्गत आवेदन कर के तालाब निर्माण हेतु अनुदान राशि प्राप्त कर सकते हो, यह स्टेप कुछ इस प्रकार से नीचे बताए गए है

मुख्यमंत्री समेकित चौर विकास योजना 2023 क्या है Mukhyamantri Samekit Chaur Vikas Yojana 2023 1
मुख्यमंत्री समेकित चौर विकास योजना 2023 क्या है Mukhyamantri Samekit Chaur Vikas Yojana 2023 2
  • जैसे ही आप इस Link पर क्लिक करेंगे आपके सामने Login Page ओपन होगा, साथ ही आप नया पंजीकरण का विकल्प भी देख पाएंगे, आपको नया पंजीकरण पर क्लिक करना है।
मुख्यमंत्री समेकित चौर विकास योजना 2023 क्या है Mukhyamantri Samekit Chaur Vikas Yojana 2023 3
  • इसके पश्चात आपकी स्क्रीन पर मत्स्य पालन योजना हेतु पंजीकरण का Application Form ओपन हो जाएगा।
मुख्यमंत्री समेकित चौर विकास योजना 2023 क्या है Mukhyamantri Samekit Chaur Vikas Yojana 2023
  • आपको इस Application Form में पूछी गई सभी जरूरी जानकारियों को ध्यानपूर्वक दर्ज करना है और फिर ओटीपी भेजे के ऑप्शन पर Click कर देना है।
  • अब आपके द्वारा Enter किए गए रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर पर एक ओटीपी प्राप्त होगा जिसे आप को निर्धारित बॉक्स में दर्ज करके Submit Button पर क्लिक करना है।
  • सबमिट बटन पर क्लिक करने के उपरांत आपका पंजीकरण मुख्यमंत्री समेकित चौर विकास योजना 2023 के लिए हो जाएगा।

Mukhyamantri Samekit Chaur Vikas Yojana 2023 Related FAQs

मुख्यमंत्री समेकित चौर विकास योजना क्या है?

बिहार मुख्यमंत्री समेकित चौर विकास योजना बिहार सरकार के द्वारा राज्य में मत्स्य पालन को बढ़ावा देने के लिए शुरू की गई एक कल्याणकारी योजना है।

इसका लाभ किसे मिलेगा?

मुख्यमंत्री समेकित चौर विकास योजना का लाभ अनुसूचित जाति, अनुसूचित जनजाति, अत्यंत पिछड़ा वर्ग के लोग और परंपरागत मछुआरों को मिलेगा।

बिहार समेकित चौर विकास योजना के अंतर्गत कितनी अनुदान राशि मिलेगी?

इस योजना के अंतर्गत बिहार पशु एवं मत्स्य विभाग के द्वारा तालाब निर्माण हेतु लाभार्थी को 50% तक की अनुदान राशि प्रदान की जाएगी।

मुख्यमंत्री समेकित चौर विकास योजना को क्यों शुरू किया गया है?

इस योजना को मुख्य रूप से बिहार राज्य के समेकित चौर क्षेत्रों के विकास, मत्स्य पालन को बढ़ावा देने एवं बेरोजगारों को रोजगार उपलब्ध कराने के लिए शुरू किया गया है।

मुख्यमंत्री समेकित चौर विकास योजना से क्या लाभ है?

इस योजना का सबसे बड़ा लाभ यह है कि राज्य के किसानों को कृषि की सिंचाई हेतु पर्याप्त पानी एवं बेरोजगार नागरिकों को प्रत्यक्ष या अप्रत्यक्ष रूप से रोजगार प्राप्त होंगे।

बिहार समेकित चौर विकास योजना के लिए आवेदन कैसे करें?

मुख्यमंत्री समेकित चौर विकास योजना 2023 के अंतर्गत आवेदन करने के लिए आपको पशु एवं मत्स्य पालन विभाग बिहार के अधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।

निष्कर्ष

बिहार राज्य के समेकित चौर इलाकों में उपलब्ध बंजर एवं बेकार जमीनों को उपयोग में लाने के लिए बिहार राज्य सरकार के द्वारा मुख्यमंत्री समेकित चौर विकास योजना 2023 का शुभारंभ किया गया है। आज हमने आपको अपने इस लेख के माध्यम से मुख्यमंत्री समेकित चौर विकास योजना 2023 क्या है? | Mukhyamantri Samekit Chaur Vikas Yojana 2023 Kya Hai in Hindi के संबंध में समुचित जानकारी प्रदान कर दी है। अगर आपको इसलिए एक में बताई गई जानकारी समझ आई हो तो आपसे अनुरोध है कि आप हमारे इस आर्टिकल को अधिक से अधिक अपने दोस्तों के साथ शेयर जरूर करें.

Leave a Comment