उड़ीसा अंतरजातीय विवाह योजना | Odisha inter cast marriage scheme 

उड़ीसा अंतरजातीय विवाह योजना, उड़ीसा अंतर जाति विवाह योजना, उड़ीसा अंतर जाति विवाह योजना 2021 ऑनलाइन आवेदन, उड़ीसा इंटर कास्ट मैरिज, Odisha inter cast marriage scheme ,  Odisha inter cast marriage scheme  Application Form 

दोस्तों आज हम आपको ओडिशा सरकार की एक महत्वपूर्ण योजना उड़ीसा अंतरजातीय विवाह योजना के बारे में बताने जा रहे हैं। हम अपने इस आर्टिकल के माध्यम से आपको यह बताएंगे कि किस प्रकार आप इस योजना का लाभ ले सकते हैं और किस प्रकार आप ऑनलाइन आवेदन करके अपने फॉर्म सबमिट करवा सकते हैं। इसलिए हमारे इस आर्टिकल को आप ध्यान पूर्वक पढ़ लीजिए।

उड़ीसा सरकार ने अंतर जाति विवाह योजना के तहत अपने राज्य में इंटरकास्ट करने वाले नवविवाहित दंपति यों को 1 लाख रूपय देने की घोषणा की है। योजना के फलस्वरुप पहले ₹50000 इंटर कास्ट मैरिज करने पर दिए जाते थे। लेकिन राज्य के मुख्यमंत्री नवीन पटनायक जी ने इस योजना को आगे बढ़ाते हुए 1 लाख रुपए देने की घोषणा की है। इस योजना के तहत अंतरजातीय विवाह करने वाले दंपत्ति को घर चलाने के लिए यह प्रोत्साहित राशि दी जाएगी। राज्य के अनुसूचित जाति एवं जनजाति कल्याण विभाग के सचिव एस कुमार ने जानकारी दी कि संपत्ति के आर्थिक हालात को ध्यान रखते दी जाएगी। उन्होंने बताया कि नदी को नकद राशि का उपयोग जमीन खरीदने खरीदने के लिए कर सकते हैं।

उड़ीसा अंतरजातीय विवाह योजना | Odisha inter cast marriage scheme

उड़ीसा अंतरजातीय विवाह योजना
Colorful Hindu wedding in India

उड़ीसा सरकार ने अपने राज्य के लड़के एवं लड़कियों के लिए अंतरजातीय विवाह योजना की शुरुआत की है जिसके तहत  को अंतर जाति विवाह करने वाले नवविवाहित दंपति को सहायता राशि प्रदान की जाएगी। इस योजना के अंतर्गत नवविवाहित दंपतियों को अपने घर स्थापित करने के लिए यह सहायता राशि दी जा रही है। जैसा की आप सभी जानते हैं कि नया घर बनाने में बहुत सा खर्च होता है। जिसके कारण राज्य सरकार ने यह फैसला किया है कि अंतर जाति विवाह करने वाले दंपतियों को सहायता राशि राज्य सरकार द्वारा दी जाएगी। इस योजना का उद्देश्य राज्य में सभी धर्मों के लोग एक साथ मिलजुल कर रहे बस इसी एकमात्र उद्देश्य के कारण राज्य सरकार एवं केंद्र सरकार ने अंतर जाति विवाह योजना को बढ़ावा दिया जा रहा है।

योजना का नामउड़ीसा अंतरजातीय विवाह योजना
किसके द्वारा शुरू की गयीराज्य सरकार
किस राज्य में शुरू की गयी उड़ीसा
लाभ प्रदान किया जायेगाइंटरकास्ट करने वाले नवविवाहित दंपतियों को
सहायता राशि1 लाख रूपय
आवेदन करने की प्रक्रियाऑनलाइन

ये भी पड़े –

जैसा कि आप सभी जानते हैं कि अंतरजातीय विवाह करने वाले को हमारे देश में फटकारा जाता है यहां तक कि उसे घर या संपत्ति से बेदखल कर दिया जाता है। ओडिशा सरकार अंतरजातीय विवाह योजना करने वाले व्यक्ति को प्रोत्साहित राशि के तौर पर 1 लाख रूपय देने की घोषणा की है। राज्य सरकार ने साल 2007 में प्रोत्साहित राशि को 10000 रुपए से बढ़ाकर 50000 कर दिया था। लेकिन अब इसे 1 लाख रूपय कर दिया गया है। इंटर कास्ट मैरिज करने वाले नवविवाहित दंपति के लिए यह एक महत्वपूर्ण योजना है। इससे बने घर बनाने यस घर का सामान लेने में इस रुपए को खर्च कर सकते हैं।

हम सब जानते हैं सरकार के द्वारा अंतरजातीय विवाह योजना का शुभारंभ किया गया। आसान शब्दों में कहें तो अन्य जाति में विवाह करने के पश्चात सरकार सहायता राशि प्रदान करती है। इस योजना के अंतर्गत ओडिशा सरकार नवविवाहित दंपति को इंटर कास्ट मैरिज करने पर एक लाख की सहायता राशि प्रदान की जाएगी। यदि आप भी इस योजना का लाभ प्राप्त करना चाहते हैं तो नीचे दिए गए ले को ध्यानपूर्वक पढ़ें

इंटर कास्ट मैरिज करने के लिए जरूरी योग्यता

  • इस योजना का लाभ केवल राज्य के स्थाई निवासी ही ले सकते हैं।
  • योजना का लाभ लेने वाले नाम दंपत्ति में से कोई एक स्वर्ण जाति से संबंध रखता हो और दूसरा अनुसूचित जाति एवं जनजाति से संबंध रखता हो वही इस योजना का लाभ ले सकते हैं।
  • ओडिशा में अंतर जाति विवाह को बढ़ावा देने के लिए प्रोत्साहित राशि दी जा रही है।

अंतर जाति विवाह योजना के लाभ

  • इस योजना के तहत नवविवाहित दंपति को घर चलाने के लिए 1 लाखों रुपए प्रोत्साहित राशि दी जाएगी।
  • इस योजना के तहत ओडिशा सरकार राज्य में जात पात को खत्म करना चाहती हैं।
  • योजना के फलस्वरुप राज्य सरकार राज्य में इंटर कास्ट मैरिज को बढ़ावा देना चाहती है।

उड़ीसा अंतरजातीय विवाह योजना  के लिए जरूरी कागजात

  • योजना का लाभ लेने के लिए नवविवाहित दंपति के पास आधार कार्ड होना अनिवार्य है।
  • नवविवाहित दंपति के पास एक साथ पासपोर्ट साइज फोटो होना अनिवार्य है।
  • विवाहित दंपति के पास शादी का प्रमाण पत्र होना अनिवार्य है।
  • नवविवाहित दंपति के पास जाति प्रमाण पत्र होना अनिवार्य है।
  • इस योजना का लाभ केवल ओडिशा के स्थाई निवासी ले सकते हैं इसलिए उनके पास ओडिशा का स्थाई प्रमाण पत्र होना अनिवार्य है।

उड़ीसा अंतरजातीय विवाह योजना ऑनलाइन आवेदन

अगर आप उड़ीसा अंतरजातीय विवाह योजना का लाभ लेना चाहते है तो हमारी नीचे दी गयी स्टेप को फॉलो करके इसमें अपना आवेदन  कर सकते है और इस योजना का लाभ ले सकते है –

  • इस योजना का लाभ लेने के लिए आपको अल्पसंख्यक एवं पिछड़ा वर्ग कल्याण विकास की आधिकारिक वेबसाइट पर जाकर क्लिक करना होगा।
  • योजना का लाभ लेने के लिए यहां पर क्लिक करें
  • क्लिक करने के बाद आपको उड़ीसा अंतरजातीय विवाह योजना का फॉर्म प्राप्त होगा।
  • फॉर्म में पूछी हुई जानकारी को ध्यान पूर्वक पढ़ने के बाद उसे भर दीजिए।
  • इसके साथ पूछे हुए आवश्यक दस्तावेज अटैच कर दीजिए।
  • इसके बाद आप इसे सबमिट कर दीजिए।
  • इस प्रकार आप ओड़िसा अंतरजातीय विवाह योजना का लाभ ले सकते हैं।

ये भी पड़े –

उड़ीसा अंतरजातीय विवाह योजना से जुड़े सवाल जवाब

उड़ीसा अंतरजातीय विवाह योजना क्या है?

उड़ीसा अंतरजातीय विवाह योजना उड़ीसा राज्य सरकार द्वारा राज्य में अंतरजाति विवाह करने वाले नवविवाहित दंपति के लिए शुरू की गई एक लाभकारी योजना है इस योजना के अंतर्गत अंतर जाति विवाह करने वाले नवविवाहित दंपति खुद का घर बनवाने के लिए राज्य सरकार सहायता राशि प्रदान करेगी। ताकि अंतर जाति विवाह करने वाले नवविवाहित दंपतियों को किसी भी समस्या का समना न करना पड़े।

उड़ीसा अंतरजातीय विवाह योजना का लाभ किसे दिया जायेगा।

इस योजना का लाभ उड़ीसा राज्य में घर से भागकर आपस में अंतर जाति विवाह करने वाले नवविवाहित जोड़ो को इस योजना का लाभ प्रदान किया जायेगा। इस योजना का लाभ लेने के लिए आवेदन कर्ता का अंतर जाति विवाह होना जरुरी है. इस योजना का लाभ लेने के लिए विवाह के 1 साल के अंदर आवेदन करना होगा।

मैं उड़ीसा अंतरजातीय विवाह योजना का लाभ कैसे ले सकता हूँ?

अगर आप उड़ीसा राज्य के निवासी है और अपने किसी अन्य जाति के लड़का या लड़की से विवाह किया है तो आप आसानी से अल्पसंख्यक एवं पिछड़ा वर्ग कल्याण विकास की आधिकारिक वेबसाइट पर जाकर आवेदन करके इस योजना का लाभ ले सकते है।

उड़ीसा अंतरजातीय विवाह योजना को शुरू करने का मुख्य उद्देश्य क्या है?

उड़ीसा अंतरजातीय विवाह योजना को शुरू करने का मुख्य उद्देश्य राज्य में इंटरकास्ट मैरेज को बढ़ावा देना और राज्य में जातिवाद की भावना को लोगो के मन से पूरी तरह ख़त्म करना है।

उड़ीसा अंतरजातीय विवाह योजना के राशि प्रदान किया जाएगी?

इस योजना के अंतर्गत आवेदन करने वाले नवविवाहित नवविवाहित जोड़ो को सरकार 50000 हजार रूपये सहायता प्रदान की जाएगी। जिसे अब बढ़ाकर 100000 रूपये कर दी गयी है।

दोस्तों आज हमने आपको उड़ीसा अंतरजातीय विवाह योजना  के बारे में बताया। हमने अपने इस आर्टिकल के माध्यम से आपको यह बताया कि किस प्रकार आप इस योजना का लाभ ले सकते हैं और किस प्रकार आप ऑनलाइन आवेदन कर के अपने फॉर्म सबमिट करवा सकते हैं। हमारे द्वारा दी हुई जानकारी आपको कैसी लगी या फिर योजना से जुड़े कोई भी प्रश्न आप हमसे पूछ सकते हैं हम आपके प्रश्नों का अवश्य ही उत्तर देंगे धन्यवाद।

Spread the love

Leave a Comment