प्रधानमंत्री सूक्ष्म खाद्य उद्योग उन्नयन योजना | लाभ, पात्रता, दस्तावेज व आवेदन प्रक्रिया (PM Suksham Khadya Udyog Unnayan Yojana)

हमारे देश में लॉकडाउन के बाद से ही कई लोगों का रोजगार छिन गया है ऐसे बेरोजगार नागरिकों (Unemployed citizens) को रोजगार प्रदान करने हेतु माननीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी ने मई 2022 को कैबिनेट मीटिंग के दौरान प्रधानमंत्री सूक्ष्म खाद्य उद्योग उन्नयन योजना (PM Suksham Khadya Udyog Unnayan Yojana) को शुरू करने की घोषणा की थी। जिसके माध्यम से देश में छोटे एवं लघु खाद्य उद्योग करने वाले उद्यमियों के व्यवसाय (Business) को बढ़ाने एवं स्वरोजगार शुरू करने के लिए सरकार द्वारा सहायता के रूप में आर्थिक मदद (Financial help) प्रदान की जाएगी.

इतना ही नहीं पीएम सूक्ष्म खाद्य उद्योग उन्नयन योजना 2023 के माध्यम से बेरोजगार लोगों को कौशल प्रशिक्षण (Skills training) के साथ प्रशासनिक सहायता एवं एमआईएस योजना का प्रचार प्रसार की पूरी सुविधा बिल्कुल मुफ्त (Free) में उपलब्ध कराई जाएगी। यदि आप प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी के द्वारा छोटे उद्यमियों के लिए आयोजित की गई इस महत्वकांक्षी योजना के अंतर्गत लाभ (Benefits) प्राप्त करने के लिए आवेदन करना चाहते हैं तो आपके लिए हमारा यह आर्टिकल बहुत ही महत्वपूर्ण होने वाला है

क्योंकि इस आर्टिकल के माध्यम से हम आपको PM Suksham Khadya Udyog Unnayan Yojana 2023 के संबंध में हर एक जानकारी विस्तार से उपलब्ध कराएंगे इसलिए आप अंत तक बिना रुके इस पोस्ट को पूरा जरूर पढ़ें।

Contents

प्रधानमंत्री सूक्ष्म खाद्य उद्योग उन्नयन योजना 2023 क्या है? (What is PM Suksham Khadya Udyog Unnayan Yojana?)

कोरोनावायरस संक्रमण के कारण देश में लगे पहले लॉकडाउन की वजह से देश के अधिकतर उद्योग रुक गए थे. जिसकी वजह से उद्योगों एवं राजस्व की प्रगति पर भारी असर पड़ा तथा देश में छोटे और लघु उद्योगो/राजस्व को प्रगति देने के लिए माननीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी के द्वारा 30 मई को आत्मनिर्भर भारत अभियान (Atmanirbhar Bharat Abhiyan) के अंतर्गत सूक्ष्म खाद्य उद्योग उन्नयन योजना 2023 को लांच किया गया था। जब केंद्र सरकार के द्वारा इस योजना को वित्तीय वर्ष (Financial year) 2020-21 में लागू किया गया था.

सूक्ष्म खाद्य उद्योग उन्नयन योजना लाभ पात्रता दस्तावेज व आवेदन प्रक्रिया 1

जिसका संचालन वर्ष 2024-25 यानी कि 5 वर्ष तक किया जाएगा। भारत सरकार के द्वारा आयोजित प्रधानमंत्री सूक्ष्म खाद्य उद्योग उन्नयन योजना 2023 (Pradhan Mantri micro food industry upgradation scheme 2023) के को खास तौर पर देश के छोटे और लघु खाद्य उद्योगों के राजस्व में प्रगति लाने के लिए शुरू किया गया है। आपकी जानकारी के लिए बता दूं कि केंद्र सरकार इस योजना के माध्यम से खाद्य पदार्थों (Foodstuffs) की गुणवत्ता एवं सुरक्षा की चीजों के लिए हर जिले में लघु उत्पादन करने वाले उद्यमियों को सब्सिडी के रूप में वित्तीय सहायता (Financial support) प्रदान करेगी.

इसके अलावा पीएम सूक्ष्म खाद्य उद्योग उन्नयन योजना के माध्यम से बेरोजगार नागरिकों को प्रशिक्षण प्रदान करने का भी काम किया जाएगा। जिससे देश के बेरोजगार नागरिकों के समक्ष रोजगार के अवसर (Employment opportunities) उत्पन्न होंगे और देश में बढ़ रही बेरोजगारी की दर को कम करने में सहायता मिलेगी. इस योजना के अंतर्गत अधिक से अधिक लाभार्थियों को लाभ पहुंचाने के लिए सरकार ने 10 हजार करोड़ का बजट निर्धारित किया है। जो भी इच्छुक नागरिक इस कल्याणकारी योजना के अंतर्गत वित्तीय सहायता अथवा प्रशिक्षण (Financial assistance or training) प्राप्त करना चाहते है.

उन्हें पहले प्रधानमंत्री सूक्ष्म खाद्य उद्योग उन्नयन योजना के लिए आवेदन करना होगा। अगर आपको इस योजना की आवेदन प्रक्रिया (Application process) के बारे में जानकारी नहीं है तो आप हमारे इस लेख को पूरा पढ़कर प्रधानमंत्री सूक्ष्म खाद्य उद्योग उन्नयन योजना (PM Suksham Khadya Udyog Unnayan Yojana) के संबंध में हर एक जानकारी जैसे- जरूरी दस्तावेज, पात्रता मानदंड एवं आवेदन प्रक्रिया (Required documents, eligibility criteria and application process) के संबंध में जानकारी प्राप्त कर सकते है।

PMFME योजना को शुरू करने का उद्देश्य Purpose of launching PMFME scheme

प्रधानमंत्री सूक्ष्म खाद्य उद्योग उन्नयन योजना (PM Suksham Khadya Udyog Unnayan Yojana) को शुरू करने का मुख्य उद्देश्य देश के छोटे एवं लघु करने वाले उद्यमियों (Small and small entrepreneurs) के व्यवसाय को आगे बढ़ाने के लिए आर्थिक सहायता प्रदान करने के साथ अन्य सुविधाएं (Other facilities) प्रदान करना है ताकि लॉकडाउन के कारण बेरोजगार हुए नागरिकों को पुनः रोजगार प्राप्त हो सके। देश के बेरोजगारों को पुनः रोजगार प्राप्त करने के लिए सरकार इस योजना के माध्यम से छोटे उद्यमियों (Small entrepreneurs) को अपना व्यवसाय बढ़ाने के लिए वित्तीय सहायता के साथ ही बेरोजगार नागरिकों को कौशल प्रशिक्षण प्रदान करना है।

प्रधानमंत्री सूक्ष्म खाद्य उद्योग उन्नयन योजना का लाभ Benefits of Prime Minister’s Micro Food Industry Upgradation Scheme

केंद्र सरकार के द्वारा देश में बढ़ रही बेरोजगारी (Unemployment) की दर को कम करने हेतु शुरू की गई इस महत्वकांक्षी योजना के अंतर्गत नागरिकों को कई तरह तरह के लाभ (Benefits) प्राप्त होंगे जिनके बारे में हमने नीचे बताया है जो निम्न प्रकार से है-

  • इस योजना के माध्यम से केंद्र सरकार देश के छोटे और लघु व्यवसाय करने वाले उद्यमियों को लाभ प्रदान करेगी।
  • प्रधानमंत्री सूक्ष्म खाद्य उद्योग उन्नयन योजना के अंतर्गत छोटे और लघु व्यवसाय करने वाले लोगों के रोजगार को आगे बढ़ाने के लिए सरकार सहायता राशि प्रदान करेगी।
  • आर्थिक सहायता के साथ ही सरकार कौशल प्रशिक्षण एवं प्रशासनिक सहायता के अतिरिक्त एमआईएस योजना का प्रचार प्रसार की सुविधा भी मुफ्त प्रदान करेगी।
  • केंद्र सरकार के द्वारा शुरू की गई इस योजना के माध्यम से बेरोजगार नागरिकों को रोजगार के नए अवसर प्राप्त होंगे जिससे देश में बढ़ रही बेरोजगारी की दर में गिरावट आएगी।

प्रधानमंत्री सूक्ष्म खाद्य उद्योग उन्नयन योजना की विशेषताएं Features of Prime Minister’s Micro Food Industry Upgradation Scheme

  • इस योजना की शुरूआत माननीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी के द्वारा आत्म भारत अभियान के अंतर्गत 20 मई 2022 को शुरू किया गया था.
  • यह योजना वित्तीय वर्ष 2020 में शुरू की गई थी जो कि वित्तीय वर्ष 2025 तक यानी कि पूरे 5 बस चलाई जाएगी।
  • प्रधानमंत्री सूक्ष्म खाद्य उद्योग उन्नयन योजना 2023 के अंतर्गत अधिक से अधिक नागरिकों को लाभ पहुंचाने के लिए सरकार ने 10 हजार करोड़ का बजट निर्धारित किया है।
  • इस योजना के अंतर्गत आने वाले खर्च का 60% राज्य सरकार तथा 40% केंद्र सरकार द्वारा दिया जाएगा।
  • इस योजना के माध्यम से हर परिवार के केवल एक व्यक्ति को ही लाभ प्रदान किया जाएगा।

प्रधानमंत्री सूक्ष्म खाद्य उद्योग उन्नयन योजना 2023 हेतु पात्रता Eligibility for Prime Minister’s Micro Food Industry Upgradation Scheme 2023

आवेदक द्वारा पीएम सूक्ष्मा खाद्य उद्योग उन्नयन योजना के अंतर्गत आवेदन (Apply) करने हेतु नीचे बताए गए निम्नलिखित पात्रता मापदंड (Eligibility criteria) को पूरा करना होगा अन्यथा आपको केंद्र सरकार के द्वारा आयोजित की गई इस योजना के अंतर्गत लाभ (Benefits) प्रदान नहीं किया जाएगा आइए हम आपको इस योजना से जुड़ी पात्रता मापदंड के बारे में बताते है-

  • आवेदन करने वाले आवेदक का अस्थाई रूप से भारत का नागरिक होना अनिवार्य है।
  • इस योजना के माध्यम से देश के छोटे और बड़े उद्योगपति लाभ प्राप्त कर सकेंगे।
  • प्रधानमंत्री सूक्ष्म खाद्य उद्योग उन्नयन योजना के अंतर्गत लाभ प्राप्त करने के लिए आवेदक की आयु 18 वर्ष या इससे अधिक होनी जरूरी है।
  • केवल भाई नागरिक इस योजना का लाभ प्राप्त कर सकेंगे जो खाद्य प्रसंस्करण गतिविधियों से संबंध रखता होगा।
  • लाभ प्राप्त करने हेतु आवेदक का कम से कम आठवीं कक्षा पास होना अनिवार्य है।
  • आवेदक का खुद के उद्योग का मालिक होना बहुत जरूरी है.
  • आवेदन करने वाला आवेदक के उद्योग में कम से कम 10 श्रमिक काम करते है।
  • इस योजना का लाभ प्रोपराइटरशिप या पार्टनरशिप में उद्योग चलाने वाले आवेदक ले सकते हैं।
  • प्रधानमंत्री सूक्ष्म खाद्य उद्योग उन्नयन योजना 2023 के अंतर्गत लंबी लीज या रिटेल वर्कशॉप के साथ रेडी बिल्ड को भी शामिल किया गया है।

पीएम सूक्ष्म खाद्य उद्योग योजना 2023 के लिए जरूरी दस्तावेज (Required Documents for PM micro food industries scheme 2023)

अगर आप केंद्र सरकार के द्वारा छोटे उद्यमियों (Small entrepreneurs) के लिए शुरू की गई इस महत्वकांक्षी योजना के अंतर्गत आवेदन करने जा रहे हैं तो आपको एप्लीकेशन फॉर्म के साथ निम्नलिखित दस्तावेजों (following documents) को अपलोड करना होगा जिनकी जानकारी सूचीबद्ध रूप में नीचे दी गई है जैसे-

  • आवेदक का आधार कार्ड
  • निवास प्रमाण पत्र
  • आय प्रमाण पत्र
  • बैंक खाता विवरण
  • उद्योग से जुड़े दस्तावेज
  • पासपोर्ट साइज फोटोग्राफ
  • मोबाइल नंबर
  • ईमेल आईडी
  • मतदाता पहचान प्रमाण पत्र
  • ड्राइविंग लाइसेंस इत्यादि।

प्रधानमंत्री सूक्ष्म खाद्य उद्योग उन्नयन योजना के लिए आवेदन कैसे करे? (How to apply for Pradhan Mantri micro food industry upgradation scheme?)

यदि आप भारत देश के निवासी हैं और केंद्र सरकार के द्वारा आयोजित सूक्ष्मा खाद्य उद्योग उन्नयन योजना 2023 के अंतर्गत आवेदन कर के लाभ प्राप्त करना चाहते हैं तो आपकी सुविधा के लिए हमने नीचे कुछ स्टेप बताएं हैं जिन्हें फॉलो करके आप बड़ी आसानी से इस योजना के अंतर्गत आवेदन कर सकेंगे जो निम्नलिखित प्रकार से है-

  • आवेदन करने के लिए आवेदनकर्ता को सबसे पहले Pradhan Mantri micro food industry upgradation scheme की आधिकारिक वेबसाइट https://pmfme.mofpi.gov.in/pmfme/#/Home-Page पर जाना होगा।
  • ऊपर दिए गए लिंक पर जैसे ही आप क्लिक करेंगे आपके सामने इस योजना की Official website का होम पेज ओपन हो जाएगा।
प्रधानमंत्री सूक्ष्म खाद्य उद्योग उन्नयन योजना लाभ, पात्रता, दस्तावेज व आवेदन प्रक्रिया (PM Suksham Khadya Udyog Unnayan Yojana)
  • यहां आपको ऑनलाइन Registration का ऑप्शन दिखाई देगा इस पर क्लिक कर दीजिए.
  • क्लिक करते ही आपके स्क्रीन पर अगला पेज ओपन हो जाएगा जहां आपको Sign up का विकल्प दिखाई देगा, इस पर क्लिक कीजिए।
  • अब आपकी स्क्रीन पर एक Form open हो जाएगा, जिसमें मांगी गई सभी जानकारी ध्यानपूर्वक पढ़कर आपको Enter करनी होगी।
  • मांगी गई सभी जानकारी ध्यान पूर्वक भरने के पश्चात आपको Register button पर क्लिक करना होगा।
  • जिसके बाद आप अपने सूक्ष्म खाद्य उद्योग उन्नयन योजना 2023 की Official website के होम पेज पर आ जाएंगे।
  • यहां आपको आपको Select beneficial type के विकल्प का चुनाव करना होगा।
  • इतना करते ही आपके सामने कुछ इस प्रकार का Page Open होगा, जिसमें आपको अपना यूजर आईडी और पासवर्ड दर्ज करके Submit के बटन पर क्लिक करना होगा।
  • तत्पश्चात आपके सामने एक नया पेज ओपन होगा जहां आपको Apply Now का बटन दिखाई देगा इस पर क्लिक करना है।
  • इसके बाद आप अपने समक्ष एक Application form को खुला हुआ देख पाएंगे इसमें पूछी गई सभी जानकारी भर कर आवश्यक दस्तावेजों को अपलोड करना होगा।
  • आवेदन पत्र में पूछी गई Information & documents को अपडेट करने के पश्चात आपको नीचे दिए गए Submit Button पर क्लिक करना है।
  • इस प्रकार आप बड़ी आसानी से कुछ आसान स्टेप्स को फॉलो कर के प्रधानमंत्री सूक्ष्म खाद्य उद्योग उन्नयन योजना 2023 के अंतर्गत अपना रजिस्ट्रेशन कर सकेंगे।

PM Suksham Khadya Udyog Unnayan Yojana Related FAQs

प्रधानमंत्री सूक्ष्म खाद्य उद्योग उन्नयन योजना क्या है?

यह हमारे देश के प्रधानमंत्री जी के द्वारा देश के छोटे उद्योगपति को आर्थिक मदद प्रदान करने एवं उनके उद्योग को आगे बढ़ाने के लिए जरूरी सुविधाएं उपलब्ध कराने के लिए शुरू की गई एक महत्वकांक्षी योजना है।

प्रधानमंत्री सूक्ष्म खाद्य उद्योग उन्नयन योजना किसने शुरू की?

सूक्ष्म खाद्य उद्योग उन्नयन योजना 2023 का शुभारंभ हमारे देश के माननीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी के द्वारा 20 मई 2022 को आत्मनिर्भर भारत अभियान के तहत शुरू की गई है।

प्रधानमंत्री सूक्ष्म खाद्य उद्योग उन्नयन योजना लाभ किसे मिलेगा?

इस कल्याणकारी योजना का लाभ भारत देश के सभी छोटे एवं लघु उद्योग करने वाले नागरिकों एवं बेरोजगार नागरिकों को प्राप्त होगा।

प्रधानमंत्री सूक्ष्म खाद्य उद्योग उन्नयन योजना क्या लाभ मिलेंगे?

केंद्र सरकार के द्वारा आयोजित की गई इस कल्याणकारी योजना के अंतर्गत छोटे उद्योग पतियों को उद्योग बढ़ाने के लिए वित्तीय सहायता तथा बेरोजगारों को प्रशिक्षण प्रदान किए जाएंगे।

प्रधानमंत्री सूक्ष्म खाद्य उद्योग उन्नयन योजना क्यों शुरू की गई?

लॉक डाउन की वजह से देश में बढ़ रही बेरोजगारी की दर को कम करने तथा बेरोजगारों के समक्ष रोजगार के नए अवसर उत्पन्न करने हेतु सरकार के द्वारा प्रधानमंत्री सूक्ष्म खाद्य उद्योग उन्नयन योजना की शुरुआत की गई है।

निष्कर्ष

आज हमने आप सभी को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी के द्वारा शुरू की गई प्रधानमंत्री सूक्ष्म खाद्य उद्योग उन्नयन योजना 2023 क्या है? (What is PM Suksham Khadya Udyog Unnayan Yojana?) के संबंध में हर एक जानकारी विस्तार से प्रदान कर दी है यदि आपके मन में अभी भी इस योजना से संबंधित कोई प्रश्न है या फिर आप कोई अन्य जानकारी प्राप्त करना चाहते हैं तो नीचे दिए गए कमेंट सेक्शन में कमेंट करके आप अपने प्रश्न हमसे पूछ सकते हैं हम आपके द्वारा पूछे गए सभी प्रश्नों का उत्तर प्रदान करेंगे।

Leave a Comment