रिज्यूम क्या होता है? | What is RESUME | रिज्यूम के प्रकार | Types of RESUME

आज के अपने इस आर्टिकल में हम आपको RESUME क्या होता है और उसको बनाने के बारे में जानकारी देगे जिससे आप अपने लिए एक अच्छा रिज्यूमे बना सकते है जिससे आपको इंटरव्यू के लिए कॉल आने में काफी आसानी होगी। अगर आप एक फ्रेशेर है तो RESUME आपके लिए ज्यादा महत्वपूर्ण है। अगर आप RESUME और Types of RESUME के बारे में जानकारी लेना चाहते है तो इस आर्टिकल को अंत तक पढ़ें।

अगर आप किसी कंपनी में नौकरी करना चाहते है तो उसके लिए आपको अपना रिज्यूम बना कर उस कंपनी के HR Manager को भेजना होता है जिसके बाद HR Manager आपके रिज्यूम को चेक करके आपको आपको उस कंपनी में इंटरव्यू के लिए बुलाता है। HR Manager द्वारा उस आवेदन करने वाले व्यक्ति को इंटरव्यू के लिए बुलाने में रिज्यूम काफी अहम होता है। इसलिए आपको एक अच्छा और interested resume बनाना चाहिए जिससे कम्पनी के HR द्वारा आपको इंटरव्यू के लिए बुलाया जा सके।

रिज्यूम क्या है? | What is RESUME

रिज्यूम क्या होता है What is RESUME रिज्यूम के प्रकार Types of RESUME

RESUME एक व्यक्ति द्वारा बनाया गया वो दस्तावेज होता है जिसमे उसके नाम, पता, शैक्षिक और कार्य अनुभव की जानकारी होती है और जिसका इस्तेमाल किसी कंपनी में इंटरव्यू देने के लिए प्रयोग किया जाता है। RESUME जरूरत के अनुसार कई प्रकार के हो सकते है।

RESUME एक फ्रेंच शब्द है जिसका मतलब सारांश होता है। एक RESUME में किसी व्यक्ति द्वारा किये गये सभी शैक्षिक कार्यों और किसी संस्था में काम करने का विवरण होता है। एक RESUME मात्र से आप किसी व्यक्ति के बारे में जान सकते है कि उसने अपनी पढाई कहाँ से की है और वह कौन कौन सी कंपनी में काम कर चुका है।

RESUME के प्रकार | Types of RESUME

आज के समय में RESUME की जरूरत को देखते हुए इसको पांच भागों में बंटा गया है जो कोरोनोलोजिकल रिज्यूम, फंक्शनल रिज्यूम, कॉम्बिनेशनल रिज्यूम, टेलर्ड रिज्यूम और इन्फोगराफिक रिज्यूम होते है। इन सभी रिज्यूम को इंडस्ट्री की जरूरत के अनुसार बाटा गया है। अगर आप इनके बारे में और जानना चाहते है तो नीचे इन सभी RESUMES के बारे में बताया जा रहा है।

Chronological Resume

इस तरह के RESUME को कोरोनोलोजिकल रिज्यूम इसलिए कहते है क्योंकि इनमे आपके recent work experience को सबसे पहले लिखा जाता है और उसके बाद उससे पहले का work experience और इसी क्रम में आपका सबसे पहला work experience सबसे आखिरी में लिखा जाता है। इस तरह के Resume को Reverse Chronological Resume भी कहते है।

Chronological Resume काफी पोपुलर Resume है और आज के समय में इस तरह के Resume का काफी यूज़ किया जाता है क्योंकि इस तरह के Resume में आवेदन करने वाले व्यक्ति के work experience का पता पहले चल जाता है जिससे HR को काफी आसानी होती है।

Functional Resume

जैसा कि आप इस Resume के नाम से ही समझ सकते है कि इस तरह के Resume में आपके work experience के साथ साथ आपकी Skills को भी हाईलाइट किया जाता है। अगर आप एक फ्रेशेर है तो आपको Functional Resume ही बनना चाहिए जिससे आप अपनी स्किल्स को पहले लिख सकते है और आपको जॉब मिलने के चांसेस बढ़ जाते है। Functional Resume को skill based रिज्यूमे भी कहा जाता है।

Combinational Resume

इस तरह के Resume में Chronological Resume और Functional Resume दोनों को कंबाइन करके बनाया जाता है। इस Resume में आपको इन दोनों resume का लेआउट मिल जाता है जिससे आप अपने रिज्यूमे को और भी अच्छा बना सकते है। Combinational Resume को Hybrid रिज्यूम भी कहा जाता है। अगर आपके पास काफी ज्यादा स्किल्स और work एक्सपीरियंस दोनों है तो आपको Combinational Resume बनाना चाहिए।

Tailored Resume

यह टेलर्ड रिज्यूम भी काफी ज्यादा Combinational Resume जैसा ही होता है लेकिन इस तरह के रिज्यूमे में केवल उन्ही skills और work एक्सपीरियंस को लिखा जाता है जिसके लिए आप आवेदन कर रहे है। इसलिए आप इस तरह के रिज्यूमे को Targeted Resume भी कह सकते है।

Tailored Resume में किसी आवेदक की किसी एक स्किल को काफी अच्छे से बताया जाता है कि वह व्यक्ति उस काम में कितना अच्छा है और वह उस काम को कितने समय से कर रहा है। अगर आपके पास सिर्फ एक ही स्किल है तो आप इस तरह का रिज्यूमे बना सकते है।

Infographic Resume

ऐसा Resume जिसमे टेक्स्ट के साथ साथ किसी तरह का कोई फोटो या ग्राफ़िक्स जैसा कुछ होता है उस Resume को Infographic Resume कहते है। Infographic Resume को बनाते समय अपनी अलग अलग जानकारी देने के लिए अलग अलग रंग, डिज़ाइन, फ़ॉन्ट स्टाइल, चार्टस और आइकॉन का इस्तेमाल किया जाता है।

यह Resume अब ज्यादा लोगो द्वारा इस्तेमाल नही किया जाता है क्योंकि इस तरह के Resume को बनाने में काफी ज्यादा समय लगता है। Infographic Resume को Networking रिज्यूमे भी कहा जाता है।

रिज्यूम क्यो जरूरी है? (Why is resume necessary)

दोस्तो अगर आप पढ़ाई लरा रहे है या पढ़ाई करके नौकरी की तलाश में है तो आपके लिए रिज्यूम काफी मजत्वपूर्ण डाक्यूमनेट है। क्योंकि रिज्यूम एक ऐसा डाक्यूमेंट होता है जो आपकी योग्यता, अनुभव, कार्यकुशलता, उपलब्धि आदि को दर्शाता है। खास तौर पर आप कब किसी संस्थान में नौकरी हेतु इंटरव्यू के लाते है तो उस नौकरी को पाने की पहली सीढ़ी रिज्यूम ही होता है। क्योंकि वर्तमान समय मे किसी भी संस्थान में रिज्यूम के आधार पर ही नौकरी दी जाती है।

रिज्यूम का उद्देश्य (purpose of resume)

पढ़ाई करने के बाद हर कोई अपना कैरियर बनाने के लिए अच्छी नौकरी की तलास करता है, और जब हम नौकरी की बात करते है तो रिज्यूम का नाम जरूर आता है। अच्छी नौकरी पाने के लिए एक अच्छे रिज्यूम की आवश्यकता होती है। क्योंकि आज के समय मे जब किसी कंपनी के द्वारा नौकरीं के लिए बुलाया जाता है तो रिज्यूम के आधार पर ही बुला जाता है। जैसे कि अगर आपको रिज्यूम में योग्यता, कार्यकुशलता, अनुभव अच्छा है तो तभी आपको इंटरव्यू के लिए बुलाया जाता है।

रिज्यूम क्या होता है?

रिज्यूम एक डाक्यूमेंट होता है। जिसे किसी व्यक्ति के द्वारा बनाया जाता है। इस डाक्यूमेंटके व्यक्ति की व्यक्तिगत शैक्षिक जानकारी का विवरण दिया गया होता है।

रिज्यूम का उपयोग कहाँ किया जाता है?

रिज्यूम का उपयोग आमतौर पर किसी कंपनी के नौकरीं प्राप्त करने हेतु किया जाता है।

क्या नौकरी के लिए रिज्यूम देना जरूरी होता है?

जीह हां, अगर आप किसी कंपनी में नौकरीं के लिए जाते है तो आपको रिज्यूम देना जरूरी होता है। क्योंकि रिज्यूम में दी गयी शैक्षिक योग्यता के के आधार पर नौकरीं दी जाती है।

रिज्यूम कितने प्रकार के होते है?

रिज्यूम कितने प्रकार के होते है इसकी पूरी जानकारी ऊपर दी गयी है।

निष्कर्ष

तो दोस्तो ये था हमारा आज का आर्टिकल जिसमे हमनें आपको रिज्यूम क्या होता है? | What is RESUME | रिज्यूम के प्रकार | Types of RESUME के बारे में जानकारी शेयर की है। I Hope की आपकप हमारे इस आर्टिकल में रिज्यूम के बारे के दी जानकारी Useful रही होगी।

Leave a Comment