[ऑनलाइन शिकायत पंजीकरण] उत्तर प्रदेश जनसुनवाई | ऑनलाइन शिकायत समाधान

उत्तर प्रदेश जन सुनवाई | उत्तर प्रदेश जन सुनवाई ऑनलाइन शिकायत समाधान | उत्तर प्रदेश जन सुनवाई पोर्टल ऑनलाइन पंजीकरण | उत्तर प्रदेश जन सुनवाई मुख्यमंत्री हेल्पलाइन नंबर | UP Jansunwai Portal | Jansunwai Portal Online Compliant Check Status | UP Jansunwai Portal Online 

सिर्फ प्रदेश में ही नही बल्कि भारत भर में भ्रष्टाचार्य दिन प्रतिदिन बढ़ता जा रहा है लेकिन इसे रोकने के लिए भारत सरकार से लेकर राज्य सरकार काफी काम कर रही है कई योजनाओं का संचालन कर रही है ताकि इस भ्रष्टाचार्य को रोका जा सके। अब इस भ्रष्टाचार्य को रोकने और अपने प्रदेश के नागरिक की समस्या को ध्यान में रखते हुए अभी हाल ही में उत्तर प्रदेश सरकार ने उत्तर प्रदेश जन सुनवाई पोर्टल वेबसाइट () UP Jansunwai Portalको लांच किया है जहां पर अब प्रदेश के नागरिकों अपनी समस्या को घर बैठे मुख्यमंत्री तक पहुंचा सकते है। फिर आपकी उस समस्या का जल्द से जल्द संबंधित विभाग के द्वारा निस्तारण किया जाएगा।

सवाल आता है कि इस उत्तर प्रदेश जन सुनवाई पोर्टल पर आप कैसे अपनी शिकायत दर्ज कर सकते है तो इसके लिए आपको जरा भी चिंता करने की आवश्यकता नही है क्योंकि हम आपको इस लेख के माध्यम से उत्तर प्रदेश जन सुनवाई पोर्टल के बारे में सम्पूर्ण जानकारी को लेकर है जैसे कि यह क्या है, इस पर किस प्रकार की शिकायत दर्ज (Jansunwai Portal Online) कर सकते है, और कैसे कर सकते है? इस तरह की सभी जानकारी आपको इस आर्टिकल के जरिये नीचे शेयर की गई है बस आपको अपनी बेहतर जानकारी के लिए इस लेख को अंत तक पड़ना है –

उत्तर प्रदेश जन सुनवाई | UP Jansunwai Portal

जैसा कि सभी जानते है कि उत्तर प्रदेश एक ऐसा राज्य जिसकी गिनती भारत के बड़े राज्यों में आती है ऐसे में यहाँ अक्सर किसी न किसी विभाग से जुड़ी अपराध की घटनाएँ देखने को मिलती है या फिर अक्सर देखा जाता है कि प्रदेश के नागरिकों के लिए किसी विभाग से जुड़ा कोई काम होता है तो वह समय पर नही हो पाता है। कई ऐसे विभाग है जिनमे काफी भ्रष्टाचार्य  भरा हुआ है जिस कारण सरकार के द्वारा दी जाने वाली योजनाओं का लाभ प्रदेश के नागरिकों के लिए मिल पाता है। ऐसे कई अन्य काम है जिसके चलते प्रदेश के नागरिकों के लिए काफी कठिनाईयों का सामना करना पड़ता है।

ये भी जाने –

इसी बात को ध्यान में रखते हुए अब सरकार ने प्रदेश के नागरिकों को बेहतर सुविधा के लिए और प्रदेश की कानून व्यवस्था बनाये रखने के लिए उत्तर प्रदेश जन सुनवाई को तैयार किया है। ताकि प्रदेश में चल रहे भृष्टचार्य को रोका जा सके और लोगों की समस्या को आसानी से सुलझाया जा सके। बता दे कि उत्तर प्रदेश जन सुनवाई पोर्टल के जरिये अब अगर किसी भी व्यक्ति का काम संबंधित विभाग से नही हो रहा है तो वह अब ऑनलाइन इंटरनेट की मदद से अपनी शिकायत दर्ज करा सकते है। फिर आपकी समस्या का समाधान समय के साथ विभाग के द्वारा किया जाएगा। अच्छी बात यह है कि आप उत्तर प्रदेश जन सुनवाई पोर्टल पर अपनी शिकायत (jansunwai Portal Online Compliant Check Status) का स्टेटस भी ऑनलाइन चेक कर सकते है। कैसे कर सकते है इसकी अधिक जानकारी के लिये लेख को ध्यानपूर्वक अंत तक पढ़ते जाए –

उत्तर प्रदेश जन सुनवाई पर शिकायत के प्रकार

उत्तर प्रदेश सरकार के इस पोर्टल की मदद से किस प्रकार की शिकायत कर सकते है वह निम्लिखित है।

  • प्रदेश सरकार के द्वारा चलाई जा रही योजनाओं से जुड़ी जानकारी पाने के लिए आप यहां अपनी शिकायत ऑनलाइन दर्ज कर सकते है।
  • अगर आपकी कोई जन साधारण से जुड़ी शिकायत है तो उत्तर प्रदेश जन सुनवाई पोर्टल पर कर सकते है।
  • अगर आपकी किसी प्रकार की मांग है तो उसे ऑनलाइन उत्तर प्रदेश जन सुनवाई पर कर सकते है।

उत्तर प्रदेश जनसुनवाई पोर्टल ऑनलाइन पंजीकरण | Jansunwai Portal Online

अब अगर आपकी किसी प्रकार की शिकायत है तो आप उसे घर बैठे आसानी से उत्तर प्रदेश जन सुनवाई पोर्टल पर दर्ज करते सकते है, अब कैसे कर सकते है इसके लिए नीचे स्टेप टू स्टेप बताया है जिसे फॉलो करते हुए आप अपनी ऑनलाइन शिकायत का पंजीकरण कर सकते है-

  • अपनी शिकायत को उत्तर प्रदेश जन सुनवाई पर दर्ज करने के लिए सबसे पहले आपको इसकी ऑफ्फिसिल वेबसाइट Jansunwai Online Portal Website पर जाना है।
  • Portal Website पर आते ही यहां आपको इसके होंम पेज पर शिकायत पंजीकरण का विकल्प मिलेगा। जहां आपको क्लिक कर देना है। जैसा कि आप नीचे स्क्रीन शार्ट में भी देख सकते है।
Jansunwai Portal Online
  • यहां आपको एक पेज मिलेगा जहां आपको निर्देश दिए गए होंगे कि आप इस Portal Website पर इस प्रकार की शिकायत दर्ज नही कर सकते है। अगर आप सहमत है तो नीचे सबमिट बटन पर क्लिक करते हुए आगे बढ़ सकते है।
Jansunwai Portal Online
  • जैसे ही सबमिट बटन पर क्लिक करते है इसके बाद यहाँ आपको ऑनलाइन शिकायत के लिए अपनी ईमेल आईडी, और मोबाइल नंबर और कैप्चा कोड के साथ सबमिट पर क्लिक करके आगे बढ़ना है।
  • अब यहां आपको जन सुनवाई पंजीकरण से जुड़ा एक फॉर्म मिलेगा जहां आपको अपनी जरूरी जानकारी जैसे नाम, पता, विभाग का नाम, शिकायत का प्रकार आदि जैसी जानकारी भरकर आपको नीचे दिए गए सबमिट बटन पर क्लिक कर देना है।
  • सबमिट पर क्लिक करते ही आगे यहां आपको शिकायत दर्ज हो जाएगी लेकिन यह आपको शिकायत पंजीकरण नंबर मिलेगा जिसे आपको नोट करके रख लेना है।

उत्तर प्रदेश जन सुनवाई स्टेटस कैसे चेक करें? Jansunwai Portal Online Compliant Check Status

अगर आपने उत्तर प्रदेश जन सुनवाई पोर्टल पर किसी शिकायत को दर्ज किया है और अब अगर आप उसका स्टेटस चेक करना चाहते है तो नीचे स्टेप को फॉलो करके आप उत्तर प्रदेश जन सुनवाई ऑनलाइन स्टेटस चेक कर सकते है –

  • इसके लिए भी आपको जनसुनवाई पोर्टल वेबसाइट पर जाना होगा।
  • अब यहां आपको इसके होम पेज पर ट्रैक Complaint status का option मिलेगा। जहां आपको क्लिक कर देना है।
  • अब यहां आपको एक फॉर्म मिलेगा जहां आपको अपना शिकायत पंजीकरण नंबर डालना है और सबमिट ओर क्लिक कर देना।
Jansunwai Portal Online
  • बस अब आप अपना स्टेटस निकल कर आ जायेगा।

उत्तर प्रदेश जन सुनवाई मुख्यमंत्री हेल्पलाइन नंबर | CM Helpline Number

उत्तर प्रदेश सरकार ने प्रदेश के नागरिकों की समस्या के निस्तारण के लिए मुख्यमंत्री हेल्पलाइन नंबर भी जारी किया है जिस पर कॉल करके अपनी शिकायत दर्ज करा सकते है। हेल्पलाइन नंबर नीचे दिया गया है

मुख्यमंत्री हेल्पलाइन = 1075

अंतिम शब्द

प्यारे नागरिको उत्तर प्रदेश सरकार के द्वारा प्रदेश के नागरिकों के लिए शुरू किया गया उत्तर प्रदेश जन सुनवाई पोर्टल वेबसाइट काफी अच्छा तरीका है लोगो की समस्या के निस्ताकरण के लिए इससे अब नागरिकों को अपनी समस्या के लिए यहां वहाँ नही भटकना पड़ेगा। क्योंकि अब ऑनलाइन घर बैठे उत्तर प्रदेश जन सुनवाई पोर्टल के जरिये नागरिको अपनी समस्या शिकायत को सम्बन्धित विभाग तक पहुंचा सकते है।

बाकी ऊपर हम आपके लिए इस लेख माध्यम से उत्तर प्रदेश जन सुनवाई पोर्टल के बारे में सम्पूर्ण जानकारी के बारे में बता ही चुके है। मुझे उम्मीद है कि दी गयी जानकारी आपको समझ आ गयी होगी। और आपके लिए उपयोगी साबित हुई होगी।

Spread the love

अपना सवाल यहाँ पूछें। कमेंट में अपना मोबाइल नंबर, आधार नंबर और अकाउंट नंबर जैसी पर्सनल जानकारी न शेयर करें।