कीट रोग नियंत्रण योजना | लाभ, पात्रता, व उद्देश्य | आवेदन प्रक्रिया

भारत एक ऐसा देश है जहां विभिन्न प्रकार की जलवायु (Climate) होने के कारण लोग अलग-अलग प्रकार की खेती करते हैं। जिसकी वजह से कृषि के क्षेत्र (Agriculture field) में आज भारत सबसे पहले स्थान पर आता है लेकिन बदलते मौसम के कारण किसानों की फसलों को कीट रोग तथा खरपतवार (Pest diseases and weeds) जैसी समस्या बनी रहती है, जिसकी वजह से प्रतिवर्ष कृषि करने वाले किसानों को बहुत अधिक नुकसान उठाना पड़ता है।

अपनी फसल (Harvest) को कीट रोगों से बचाने के लिए किसान की प्रबंधक रसायनों या कीटनाशकों का छिड़काव कर आते है हालांकि ऐसा करने से उनकी फसलों की लागत बढ़ती है तथा उनकी आय में वृद्धि होती है लेकिन कुछ ऐसे किसान हैं जो अपने खेतों में बुवाई हुई फसल को कीट रोगों से बचाने के लिए प्रबंधक रसायनों एवं कीटनाशकों का छिड़काव करवाने में असमर्थ रहते हैं जिसकी वजह से उन्हें कई सारी समस्याएं उठानी पड़ती है।

इसी बात को ध्यान में रखते हुए उत्तर प्रदेश राज्य सरकार ने कीट रोग नियंत्रण योजना 2022 (UP Keet Rog Niyantran Yojana 2022) को शुरू किया है। अगर आप उत्तर प्रदेश राज्य सरकार के द्वारा आज के किसानों की आय में वृद्धि करने एवं उनकी आर्थिक स्थिति सुधारने हेतु आयोजित कीट रोग नियंत्रण योजना 2022 के संबंध में जानकारी प्राप्त करना चाहते हैं तो आप भी ना छोड़े इस पोस्ट को अंत तक जरूर पढ़ें।

Contents

कीट रोग नियंत्रण योजना क्या है? (What is the Pest Disease Control Plan?)

प्रतिवर्ष खरपतवार/कीट तथा रोग के कारण किसानों की लगभग 15 से 20% फसलों को नुकसान होता है जिसकी वजह से किसानों (Farmers) की आर्थिक स्थिति बत से बत्तर होती जा रही है, इसी बात को ध्यान में रखते हुए और किसानों की होने वाली फसल के नुकसान (Disadvantages) को रोकने के लिए उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी के द्वारा किसानों को कीटनाशकों एवं फसलों को कीट रोगों (Insect diseases) से बचाने के लिए कीट रोग नियंत्रण योजना 2022 (Keet Rog Niyantran Yojana 2022) को शुरू किया गया है।

कीट रोग नियंत्रण योजना लाभ पात्रता व उद्देश्य आवेदन प्रक्रिया

जिसके माध्यम से सरकार कीटनाशक का छिड़काव करने वाली मशीनों (Machines)  पर अनुदान राशि प्रदान करेगी। आपकी जानकारी के लिए बता दें कि उत्तर प्रदेश सरकार के द्वारा इस योजना को वित्तीय वर्ष 2017-18 से वर्ष 2021-22 तक के लिए चलाया गया था लेकिन सरकार द्वारा हाल ही में इस योजना को 5 साल के लिए आगे बढ़ा (Increased) दिया गया है यानी कि अब राज्य सरकार के द्वारा चलाई जाने वाली योजना रोग नियंत्रण योजना 2022-23 से वर्ष 2026-27 तक की मंजूरी (Approval) दे दिया गया है।

जो भी इच्छुक किसान उत्तर प्रदेश राज्य सरकार (Uttar Pradesh state government) के द्वारा शुरू की गई इस कल्याणकारी योजना के अंतर्गत आवेदन करके लाभ प्राप्त करना चाहते हैं तो उन्हें इस योजना के लिए कई पात्रता मानदंड एवं दस्तावेजों (Eligibility criteria & documents) की आवश्यकता होगी जिनके बारे में पूरी जानकारी हमने इस पोस्ट के माध्यम से प्रदान की है इसीलिए आप अंत तक हमारी वेबसाइट के इस लेख में बने रहें।

योजना का नाम कीट रोग नियंत्रण योजना
साल 2022
राज्य उत्तर प्रदेश
लाभार्थी किसान
उद्देश्य किसानो की आय दोगुनी करना
लाभ सब्सिडी प्रदान करना
आवेदन प्रक्रिया ऑनलाइन और ऑफलाइन
वेबसाइट http://www.upagriculture.com

उत्तर प्रदेश की कीट रोग नियंत्रण योजना का उद्देश्य

मौसम के कारण किसानों की फसलें तरह-तरह के रोगों का शिकार हो जाती हैं तथा कीट फसल को बर्बाद करने में अहम भूमिका (Role) निभाते हैं जिसकी वजह से हर वर्ष किसानों को भारी नुकसान उठाना पड़ता है। इसी बात को केंद्र मानकर उत्तर प्रदेश प्रशासन के द्वारा UP Keet Rog Niyantran Yojana आरंभ किया गया है।

जिसका मुख्य उद्देश्य राज्य में कृषि करने वाले किसानों की फसल को खरपतवार (Weed) से होने वाली क्षति एवं फसल रोग से बचाने के लिए छिड़काव मशीन (Spraying machine) पर अनुदान प्रदान करना है ताकि कीटों से फसल के होने वाले नुकसान को रोका जा सके और किसानों की आय को बढ़ाया जा सके।

50% अनुदान पर दी जाएगी रासायनिक दवाइयां और स्प्रेयर

उत्तर प्रदेश राज्य सरकार के द्वारा आयोजित कीट रोग नियंत्रण योजना 2022 के अंतर्गत राज्य के लघु एवं सीमांत वर्ग के किसानों (Small and marginal farmers) की फसलों को खरपतवार /कीट /रोग के नियंत्रण के लिए जरूरी मशीनों जैसे- नैपसेक स्प्रेयर, पावर स्प्रेयर आदि (Knapsack sprayer, power sprayer etc) की खरीद पर  50% अनुदान राशि प्रदान करेगी।

इसके अलावा 1.95 हेक्टर भूमि क्षेत्रफल बाली किसानों को कृषि रक्षा हेतु कृषि रसायनों (Agricultural chemicals) को भी प्रदान किया जाएगा। सरकार द्वारा जारी किए गए निर्देशों के अनुसार इस वर्ष इस योजना के लाभ प्राप्त करने वाले लाभार्थियों को 6000 कृषि यंत्र (Agricultural machinery) प्रदान किए जाएंगे की लघु एवं सीमांत वर्ग के किसान इन कृषि यंत्रों का इस्तेमाल करके अपनी फसल को कीट रोग से सुरक्षित रख सकें।

कीट रोग नियंत्रण योजना के लाभ और विशेषताएं Benefits and Features of Pest Disease Control Scheme

उत्तर प्रदेश प्रशासन के द्वारा आयोजित इस महत्वपूर्ण योजना के अंतर्गत राज्य के गरीब किसानों (Poor farmers) को कई तरह के लाभ प्रदान किए जाएंगे आइए एक नजर इस योजना के अंतर्गत मिलने वाले लाभ (Benefits) और इसकी विशेषताओं पर डाल लेते हैं जिनके बारे में हमें सूचीबद्ध रूप में नीचे बताया है-

  • इस योजना को मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी के द्वारा मंत्रिपरिषद की बैठक (Council of Ministers Meeting) में शुरू किया गया है।
  • इस योजना के माध्यम से सरकार किसानों की फसलों को नुकसान से बचाने और किसानों की आय में वृद्धि (Income growth) करने का प्रयास करेगी।
  • कीट रोग नियंत्रण योजना 2022 वर्ष 2022 से लेकर 2027 तक संचालित (Operate) की जाएगी।
  • इसके माध्यम से सरकार लाभार्थियों को कृषि संयंत्र खरीदने के लिए सब्सिडी एवं कृषि रक्षा रसायन (agriculture defence chemicals) उपलब्ध कराएगी।
  • UP Keet Rog Niyantran Yojana के शुरू होने से खरपतवार (Weed) की वजह से किसानों के होने वाले 20% फसल के नुकसान को बचाया जा सकेगा।
  • उत्तर प्रदेश सरकार के द्वारा इस योजना के माध्यम से 1158321 किसानों को प्रकार के लाभ (Benefits) प्रदान किए जाएंगे।
  • उत्तर प्रदेश के किसानों के हितों के लिए कीट रोग नियंत्रण योजना (Pest Disease Control Plan) के अंतर्गत आने वाले 5 वर्षों में सरकार किसानों की आय में वृद्धि करने के लिए 19257.75 करोड़ रुपए खर्च करेगी।
  • इस योजना के अंतर्गत कृषि (farming) करने वाले किसानों के लिए बायोपेस्टिसाइड और बायोएजेंट्स पर 75% की सब्सिडी प्रदान की जाएगी।
  • इस योजना के अंतर्गत किसानों की फसल को सुरक्षित रखने के लिए कृषि विभाग के द्वारा राज्य में आईपीएम प्रयोगशाला (IPM laboratory) की स्थापना की जाएगी।
  • राज्य के लघु एवं सीमांत किसानों को खरपतवार,कीट,रोग (weeds,pests,disease) के नियंत्रण के लिए कृषि रक्षा रसायन 50% अनुदान पर दिए जाएंगे।

कीट रोग नियंत्रण योजना के लिए जरूरी दस्तावेज Documents required for pest disease control plan

अगर आप उत्तर प्रदेश राज्य सरकार के द्वारा आयोजित यूपी कीट रोग नियंत्रण योजना 2022 (Up Pest Disease Control Scheme) के अंतर्गत एप्लीकेशन फॉर्म भर के लाभ प्राप्त करना चाहते हैं तो इसके लिए आपके पास निम्नलिखित दस्तावेजों (Documents) का होना बेहद आवश्यक है जो आपको एप्लीकेशन फॉर्म के साथ अटैच करके जमा होंगे। हमने इस योजना के लिए सभी महत्वपूर्ण दस्तावेजों की लिस्ट नीचे दी है जैसे-

  • एप्लीकेशन फॉर्म
  • निवास प्रमाण पत्र
  • आय प्रमाण पत्र
  • आधार कार्ड
  • मतदाता पहचान प्रमाण पत्र
  • जमीन से संबंधित कागजात
  • मोबाइल नंबर
  • पासपोर्ट साइज फोटो
  • ईमेल आईडी इत्यादि।

उत्तर प्रदेश कीट रोग नियंत्रण योजना के लिए पात्रता मापदंड Eligibility Criteria for Uttar Pradesh Pest Disease Control Scheme

उत्तर प्रदेश सरकार के द्वारा इस योजना का लाभ प्राप्त करने वाले लाभार्थियों के लिए कुछ योग्यताओं का निर्धारण किया गया है। जिनके बारे में अगर आप जानना चाहते हैं तो नीचे बताए गए बिंदुओं को ध्यान से पढ़िए।

  • कीट रोग नियंत्रण योजना 2022 के अंतर्गत आवेदन कर के लाभ प्राप्त करने वाला आवेदक उत्तर प्रदेश राज्य का स्थाई निवासी होना चाहिए।
  • इस योजना का लाभ सभी किसानों को ही मिलेगा जो अपनी भूमि का इस्तेमाल कृषि के लिए करते हैं।
  • लाभ प्राप्त करने के लिए लाभार्थी का सीमांत एवं लघु वर्ग से होना बेहद आवश्यक है।
  • जिन किसानों के पास 1.95 हेक्टर भूमि है वह इस योजना के अंतर्गत आवेदन करके लाभ प्राप्त करने की योग्य हैं।

यूपी कीट रोग नियंत्रण योजना के लिए ऑनलाइन आवेदन कैसे करें? How to apply for UP Pest Disease Control Scheme?

अगर आप अपनी फसल को कीट रोगों के कारण होने वाले नुकसान से सुरक्षित (Safe) रखने के लिए उत्तर प्रदेश कीट रोग नियंत्रण योजना 2022 का लाभ प्राप्त करने के लिए आवेदन (Apply) करना चाहते हैं लेकिन आपको कीट रोग नियंत्रण योजना के लिए आवेदन कैसे करें? के संबंध में जानकारी नहीं है तो नीचे बताएगा चरणों का पालन करें।

  • इस योजना का लाभ प्राप्त करने के लिए सर्वप्रथम किसानों को अपने जिले के Agriculture Department में जाना होगा।
  • कृषि विभाग में पहुंचने के बाद आपको संबंधित अधिकारी से कीट रोग नियंत्रण योजना से संबंधित Application form प्राप्त करना है।
  • अब आपको इस आवेदन पत्र में पूछी गई सभी जानकारियों (Information) को ध्यानपूर्वक पढ़कर सही सही भरना होगा।
  • एप्लीकेशन फॉर्म भरने के पश्चात आपको सभी जरूरी दस्तावेजों (Documents) को आवेदन पत्र के साथ अटैच करना होगा।
  • सभी जानकारी दर्ज करने और दस्तावेजों को अटैच करने के पश्चात आपको इसे कृषि विभाग में जमा करना होगा।
  • जिसके बाद संबंधित अधिकारी के द्वारा आपके दिए गए आवेदन पत्र तथा दस्तावेजों का सत्यापन (Verification) किया जाएगा और अगर आप इस योजना के लिए पात्र होंगे तो सरकार द्वारा आपको इस योजना से संबंधित लाभ प्रदान किए जाएंगे।

Pest Disease Control Plan Related FAQs

उत्तर प्रदेश कीट रोग नियंत्रण योजना क्या है?

उत्तर प्रदेश प्रशासन के द्वारा कीट रोगों के कारण किसानों के होने वाले फसल को नुकसान को रोकने के लिए शुरू की गई एक महत्वकांक्षी योजना है जिसके अंतर्गत किसानों को फसल में छिड़काव के लिए जरूरी मशीनों पर अनुदान एवं रसायनिक पदार्थ प्रदान किए जाएंगे।

उत्तर प्रदेश कीट रोग नियंत्रण योजना किसके द्वारा शुरू की गई है?

इस महत्वपूर्ण योजना का शुभारंभ उत्तर प्रदेश राज्य के माननीय मुख्यमंत्री के द्वारा गत वर्ष मंत्री परिषद बैठक के दौरान की गई है।

उत्तर प्रदेश राज्य में इस योजना का संचालन कितने वर्ष तक किया जाएगा?

उत्तर प्रदेश प्रशासन के द्वारा आयोजित इस योजना का संचालन उत्तर प्रदेश राज्य में वर्ष 2022-23 से लेकर वर्ष 2026-27 यानी 5 वर्षों तक किया जाएगा।

इस योजना का लाभ किसे मिलेगा?

इस योजना का लाभ राज्य के सभी सीमांत और छोटे वर्ग के किसानों को प्रदान किया जाएगा ताकि इस योजना का लाभ प्राप्त करके किसान अपनी फसल को कीट रोगों से बचा पाएंगे।

निष्कर्ष

आज हमने आपको अपनी इस पोस्ट के माध्यम से हमने आपके लिए उत्तर प्रदेश कीट रोग नियंत्रण योजना 2022 के बारे में जानकारी प्रदान की हैं। उम्मीद करते है कि आपको हमारा आज का यह आर्टिकल पसंद आया होगा। अगर आपको हमारा यह लेख अच्छा लगा हो तो इस पोस्ट को अपने दोस्तो के साथ शेयर करें और अगर आप इसके संबंध मे अगर आप कोई अन्य जानकारी प्राप्त करना चाहते है तो नीचे कमेंट सेक्शन में कमेंट करके पूछ सकते हैं।

Spread the love

अपना सवाल यहाँ पूछें। कमेंट में अपना मोबाइल नंबर, आधार नंबर और अकाउंट नंबर जैसी पर्सनल जानकारी न शेयर करें।