उत्तराखंड अंतरजातीय विवाह योजना 2022 | 2.50 लाख | ऑनलाइन आवेदन

उत्तराखंड अंतरजातीय विवाह योजना 2022, उत्तराखंड अंतरजातीय विवाह योजना 2022 ऑनलाइन आवेदन, अंतरजातीय विवाह योजना उत्तराखंड, Uttrakhand Inter-Caste Marriage ,  Uttrakhand Inter-Caste Marriage Application Form, Uttrakhand Inter-Caste Marriage Apply Form, How to apply for Uttarakhand Interracial Marriage Scheme 2022 online 

उत्तराखंड अंतरजातीय विवाह योजना – दोस्तों आज हम आपको उत्तराखंड सरकार की एक महत्वपूर्ण योजना उत्तराखंड अंतरजातीय विवाह योजना के बारे में बताने जा रहे हैं हम अपने इस आर्टिकल के माध्यम से आपको यह बताएंगे कि किस प्रकार आप इस योजना का लाभ ले सकते हैं और किस प्रकार आप ऑनलाइन आवेदन करके अपने फॉर्म सबमिट करवा सकते हैं। इसलिए हमारे इस आर्टिकल को आप ध्यान पूर्वक पढ़ लीजिए।

उत्तराखंड सरकार अपने राज्य में एक महत्वपूर्ण योजना की शुरुआत की है जिसका नाम उत्तराखंड अंतरजातीय विवाह योजना है। योजना के अंतर्गत इंटर कास्ट मैरिज करने वाले नवविवाहित दंपतियों को घर चलाने के लिए 2.50 लाख रूपय प्रोत्साहन राशि दी जाएगी। इस योजना के तहत उत्तराखंड सरकार राज्य में जात पात को खत्म करना चाहती है। सरकार चाहती है कि सभी जातियों के लोग आपस में प्यार एवं मिलजुल कर रहे। यही एकमात्र मुख्य उद्देश्य है जिसके कारण उत्तराखंड सरकार अंतरजातीय विवाह योजना के तहत नवविवाहित दंपति को प्रोत्साहन राशि दे रही है।

Contents

उत्तराखंड अंतरजातीय विवाह योजना क्या है? |  Maharashtra Inter-Caste Marriage 

उत्तराखंड अंतरजातीय विवाह योजना ऑनलाइन आवेदन कैसे करे

उत्तराखंड सरकार ने अपने राज्य के युवाओं को अंतरजातीय विवाह करने वाले दंपतियों को राज्य सरकार की तरफ से सहायता राशि प्रदान की जाएगी योजना के अंतर्गत नवविवाहित दंपति स्थापित करने के लिए राज्य सरकार की तरफ से सहायता राशि दी जाएगी।

योजना का उद्देश्य यह है कि राज्य के सभी धर्मों के लोग आपस में मिलजुल कर रहे एवं प्यार से रहे बस इसी एकमात्र देश के कारण उत्तराखंड सरकार ने अंतर जाति विवाह योजना की शुरुआत की है। इस योजना के अंतर्गत सरकार के द्वार अंतरजातीय विवाह करने वाले दम्पंती को 2 लाख 50 हजार रूपए की आर्थिक सहायता भी प्रदन की जाएगी।

इस  योजना का उद्देश्य यह है कि सभी धर्मों के लोग आपस में मिल जुल कर रहे  बस इसी एकमात्र उद्देश्य के कारण राज्य सरकार उत्तराखंड अंतरजातीय विवाह योजना की शुरुआत की ताकि राज्य में अंतर जाति विवाह योजना को बढ़ावा दिया जा सके। इस योजना का लाभ लेने के लिए नवविवाहित दंपति में से कोई एक स्वर्ण जाति से संबंध रखता है।

योजना का नाम उत्तराखंड अंतरजातीय विवाह योजना
किस राज्य में शुरू की गई उत्तराखंड
लाभ किसे प्रदान किया जायेगा अंतरजातीय विवाह करने वाले विवाहित जोड़े को
कितनी धनराशि दी जाएगी 2 लाख 50 हजार रूपए
कितने जोड़ो को लाभ दिया जायेगा लगभग 500 से अधिक नवविवाहित जोड़ो को
प्रक्रिया ऑनलाइन और ऑफलाइन

और दूसरा अनुसूचित जाति से संबंध रखता हो वही इस योजना का लाभ ले सकते हैं। जानकारी दे दे उत्तराखंड सरकार ने उत्तराखंड अंतरजातीय विवाह योजना के अंतर्गत प्रदेश में लगभग 500 शादियों को अंतरजातीय लड़की और लड़कियों के बीचे कराने का लक्ष्य रखा है –

उत्तराखंड अंतरजातीय विवाह योजना के लाभ | Benefits of uttarakhand interracial marriage scheme

उत्तराखंड अंतरजातीय विवाह योजना प्रदेश के सभ लोगो के काफी उपयोगी है जो अन्य किसी धर्म जाति के बीच शादी करके एकता करना चाहते है इस योजना के द्वारा होने वाले लाभ कुछ इस प्रकार है –

  • इस योजना के तहत राज्य सरकार की तरफ से 2.50 लाख रूपय प्रोत्साहन राशि दी जाएगी।
  • योजना के फलस्वरुप नवविवाहित दंपति इश्क प्रोत्साहन राशि घर का सामान जैसे कि फर्नीचर एवं घर खरीदने के लिए खर्च कर सकते हैं।
  • योजना के अंतर्गत राज्य सरकार राज्य में जात पात को खत्म करना चाहती है।
  • लोगो के बीच आपसी समबन्ध को बढ़ावा मिलेगा।
  •  प्रदेश में जाति धर्म जैसी बातों से निजात मिलेगी।

उत्तराखंड अंतरजातीय विवाह योजना के लिए जरूरी दस्तावेज | Documents required for Uttarakhand Interracial Marriage Scheme

इस योजना का लाभ प्रदेश के सभी नागरिक ले सकते है लेकिन उत्तराखंड अंतरजातीय विवाह योजना 2022 में आवेदन करने और इस योजना का लाभ लेने के लिए सरकार के द्वारा निर्धारित किये  महत्वपूर्ण दस्तावेज होना जरूरी है –

आधार कार्ड – योजना का लाभ लेने के लिए नवविवाहित दंपति के पास आधार कार्ड होना अनिवार्य है।

मैरिज सर्टिफिकेट – नवविवाहित दंपति के पास कोर्ट मैरिज का सर्टिफिकेट होना अनिवार्य है।

जाति प्रमाण पत्र – योग्य उम्मीदवारों को अंतरजातीय विवाह योजना का लाभ लेने के लिए जाति प्रमाण पत्र होना आवश्यक है।

फोटो – नवविवाहित दंपति के पास एक साथ मिलकर पासपोर्ट साइज फोटो होना अनिवार्य है।

स्थाई प्रमाण पत्र – आवेदनकर्ता के पास उत्तराखंड का स्थाई प्रमाण पत्र होना अनिवार्य है।

बोनाफाइड – योजना का लाभ लेने के लिए नवविवाहित दंपति के पास बोनाफाइड होना अनिवार्य है।

उत्तराखंड अंतरजातीय विवाह योजना ऑनलाइन आवेदन कैसे करे? | How to apply for Uttarakhand Interracial Marriage Scheme online

उत्तराखंड अंतरजातीय विवाह योजना सरकार  की गयी काफी महत्वपूर्ण योजना है इस योजना से राज्य के नागरिको में जाति धर्म जैसे अंधविस्वाश से छुटकारा मिलेगा जिससे लोगो में एकता बढ़ेगी और आपसी सम्बन्ध मजबूत होंगे सो अब अगर आप भी इस योजना का लाभ लणा चाहते है तो इसके लिए आप हमारे नीचे दिए गए स्टेप को फॉलो करके इसमें अपना आवेदन कर सकते है –

  • इस योजना का लाभ लेने के लिए आपको उत्तराखंड सरकार की सामाजिक कल्याण की आधिकारिक वेबसाइट पर जाकर क्लिक करना होगा योजना का लाभ लेने के लिए फॉर्म डाउनलोड करने के यहां पर क्लिक करें
  • क्लिक करने के बाद आपको उत्तराखंड अंतरजातीय विवाह योजना के लिए एक रजिस्ट्रेशन फॉर्म प्राप्त होगा।
  • रजिस्ट्रेशन फॉर्म में पूछी हुई जानकारी को ध्यानपूर्वक पढ़ने के बाद उसे भर दीजिए।
  • ध्यान रहे आपको फॉर्म भरते समय अपने जरूरी दस्तावेज अटैच करने होंगे।
  • इसके बाद आप सबमिट बटन पर क्लिक कर दीजिए।
  • ध्यान रखिए आपने जो भी फॉर्म भरा है उसका प्रिंट आउट लेना ना भूलें। क्योंकि यह आगे चलकर आपके काम आ सकता है।
  • इस प्रकार आप उत्तराखंड अंतरजातीय विवाह योजना का लाभ ले सकते हैं।

उत्तराखंड अंतरजातीय विवाह योजना से सम्बंधित प्रश्न उत्तर

उत्तराखंड अंतरजातीय विवाह योजना क्या है?

उत्तराखंड अंतरजातीय विवाह योजना उत्तराखंड सरकार के द्वारा एक बहुत महत्वपूर्ण योजना है के अंतर्गत उत्तराखंड राज्य के जिन लड़का लड़कियों ने अंतरजातीय विवाह किया है उन नवविवाहित जोड़ो को सरकार प्रोत्साहन के रूप में वित्तीय राशि प्रदान करेगी।

उत्तराखंड अंतरजातीय विवाह योजना का लाभ राज्य के किन नागरिको प्रदान किया जायेगा?

इस योजना का लाभ राज्य में उन लड़का और लड़कियों को प्रदान किया जायेगा जिन्होंने अपनी जाति से अलग जाति में विवाह किया है उन नागरिको के लिए सरकार की और से प्रोत्साहन लिए वित्तीय सहायता दी जाएगी।

Uttarakhand Interracial Marriage Scheme का लाभ का लाभ लेने के लिए क्या करना होगा?

इस योजना लेने के लिए सबसे पहले आपको इस योजना के तहत आवेदन करना होगा, आवेदन करने के लिए आपको सबसे पहले उत्तराखंड सरकार के सामाजिक कल्याण की आधिकारिक वेबसाइट पर बिजित करके आवेदन पात्र डाउनलोड करना होगा।

उत्तराखंड अंतरजातीय विवाह योजना का लाभ लेने वाले लाभार्थियों को कितनी प्रोत्साहन राशि प्रदान की जाएगी?

उत्तराखंड अंतरजातीय विवाह योजना का लाभ लेने वाले लाभार्थियों को सरकार के द्वारा 2 लाख 50 हजार रूपये की प्रोत्साहन राशि प्रदान की जाएगी।

क्या उत्तराखंड अंतरजातीय विवाह योजना के तहत केवल अंतरजातीय विवाह करने वाले जोड़े ही आवेदन कर सकते है?

जी हाँ इस योजना का लाभ केवल एक साल के अंदर अतरजातीय विवाह करने वाले जोड़े ही आवेदन कर सकते है

निष्कर्ष 

दोस्तों आज हमने आपको उत्तराखंड सरकार की एक नई योजना उत्तराखंड अंतरजातीय विवाह योजना 2022 के बारे में बताया। हमने अपने इस आर्टिकल के माध्यम से आपको यह बताया कि किस प्रकार आप इस योजना का लाभ प्राप्त कर सकते हैं और किस तरह आप ऑनलाइन एवं ऑफलाइन आवेदन कर सकते हैं। योजना के बारे में कोई भी प्रश्न आप हमसे पूछ सकते हैं हम आपके प्रश्नों का अवश्य ही  उत्तर देंगे धन्यवाद।

6 thoughts on “उत्तराखंड अंतरजातीय विवाह योजना 2022 | 2.50 लाख | ऑनलाइन आवेदन”

  1. हेलो सिर मैने इंटरकास्ट सादी की है मैं जनरल कास्ट से और मेरी वाइफ एससी से हैं हम उत्तराखंड के हल्द्वानी शहर से हैं हम इस योजना का फायदा केसे ले सकते हैं प्लीज मदद करिए

    Reply
  2. Website ka link ya written me hi bta dete site ka kya naam hai
    Uttrakhand ki na to online ka pta hota hai na hi offline ka,.
    File office me hi padi rh jati hai

    Reply

Leave a Comment