अगर किसान की खेती किसी प्राकृतिक आपदा में नष्ट हो जाती है तो किसानों को काफी परेशानियों का सामना करना पड़ता है।

जिसे ध्यान में रखते हरियाणा सरकार ने हरियाणा मुख्यमंत्री बागवानी बीमा योजना को शुरू किया है। जिसके  अंतर्गत राज्य के किसानों के लिए उनकी फसल पर बीमा कवर किया जाएगा।

योजना के तहत अगर किसी किसान की फसल किसी प्राकृतिक आपदाओं जैसे कि फसल में बीमारी लगने, असम्न्य वर्षा, तूफान, सूखा पड़ना, आदि खराब हो जाती है तो योजना के अंतर्गत किसानों को फसल का बीमा कवर करके उन्हें नष्ट हुई फसल का मुआवजा दिया जाएगा।

        योजना का उद्देश्य 

कई किसान फसल के नष्ट होने से आत्महत्या करने के लिए तैयार हो जाते है इन्हीं कुछ बातों को संज्ञान में रखते हुए Haryana Mukhyamantri Bagwani Bima 2022 को शुरू किया गया है।

हरियाणा मुख्यमंत्री बागवानी बीमा योजना के अंतर्गत सरकार ने मसाले, सब्जी, फल जैसी 21 फसलों को शामिल किया है जिसमें सरकार बीमा कवर प्रदान करेगी।

यह बीमा कवर लेने के लिए किसानों को प्रीमियम देना होगा। प्रीमियम की बात करें तो मसाले की फसल का बीमा कराने के लिए 750 रुपये और फल की फसल पर 1000 रुपये का प्रीमियम भुगतान करना होगा।

योजना के अंतर्गत किसानों को फसल नष्ट होने पर ₹30000 एवं ₹40000 का बीमा दिया जाएगा।

योजना के अंतर्गत किसानों को फसल नष्ट होने पर ₹30000 एवं ₹40000 का बीमा दिया जाएगा।

हरियाणा मुख्यमंत्री बागवानी बीमा योजना के बारे में ज्यादा जानकारी के लिए नीचे लिंक पर क्लिक करें?