उत्तर प्रदेश राज्य के विकास एवं नागरिको के हितों के लिए सरकारी कर्मचारी अहम भूमिका निभाते हैं। 

अब सरकार के द्वारा सरकारी कर्मचारियों एवं पेंशन भोगियों  को कैशलेस स्वस्थ सेवाएं उपलब्ध कराने के लिए 7 जनवरी 2022 को पंडित दीनदयाल उपाध्याय राज्य कर्मचारी कैशलेस चिकित्सा योजना 2022  को शुरू किया गया है।

इस योजना के अंतर्गत उत्तर प्रदेश राज्य के सभी विभागों के कर्मचारियों के ऑनलाइन स्टेट हेल्थ कार्ड (Online State health card) बनाए जाएंगे

जिसके माध्यम से राज्य कर्मचारी पेंशनर्स एवं उनके परिवार के लोग कैशलेस चिकित्सा सेवाएं (Cashless medical services) प्रदान की जाएंगी।

पंडित दीनदयाल उपाध्याय राज्य कर्मचारी कैशलेस चिकित्सा योजना 2022 के अंतर्गत जारी किया जाने वाला हेल्थ कार्ड स्टेट को स्वास्थ्य एकीकृत सेवाओं एजेंसी के द्वारा जारी किया जाएगा।

राज्य कर्मचारी कैशलेस चिकित्सा योजना के माध्यम से राज्य कर्मचारियों एवं पेंशनर को 500000 तक का कैशलेस उपचार की सुविधा मिलेगी।

अब इस योजना को राज्य में लागू करने का आदेश उत्तर प्रदेश शासन तथा चिकित्सा एवं स्वास्थ्य सचिव अमित मोहन प्रसाद के द्वारा भी जारी कर दिया गया है।

कॉरपस फंड के द्वारा मरीज यदि सरकारी चिकित्सालय में इलाज करवाता है तो उसे इलाज के खर्च की 50% धनराशि देनी होगी।

पंडित दीनदयाल उपाध्याय राज्य कर्मचारी कैशलेस चिकित्सा योजना 2022 से जुडी ज्यादा जानकारी के लिए नीचे क्लिक करे।