सरकार देश के किसानों को पारंपरिक तरीके से खेती करने और अपने खेतों में कम कीटनाशकों का उपयोग करने के लिए कई तरह से प्रोत्साहित करती रहती है। 

इसके लिए सरकार समय समय में कई तरह की योजनाओं को चलाती रहती है। 

जिससे किसानों को जैविक खेती करने पर अधिक से अधिक लाभ दिया जा सके।

भारत सरकार द्वारा देश के किसानों के लिए एक नई योजना को शुरू किया गया है जिसका नाम “परम्परागत कृषि विकास योजना 2022” है।

एक सर्वें के अनुसार जैविक खेती करना खेत के साथ साथ पर्यावरण के लिए भी लाभकारी होता है।

क्योंकि जैविक खेती करने में बहुत ही कम कीटनाशकों का उपयोग किया जाता है। 

जिससे खेती की मिट्टी पर किसी तरह का कोई दुष्प्रभाव नही पड़ता है और साथ ही खेती में फसल की उपज भी ज्यादा होती है।

Paraparagat Krishi Vikas Yojana के तहत सरकार किसानों को जैविक खेती के लिए 50000 प्रति हेक्टेयर के हिसाब से 3 वर्ष तक के लिए आर्थिक सहायता प्रदान करेगी।

परम्परागत कृषि विकास योजना से जुडी ज्यादा जानकारी के लिए नीचे क्लिक करे।